मनीषा के साम्राज्य की हो सीबीआइ जांच

2018-08-19T06:01:00Z

PATNA: जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और एमपी राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने ब्रजेश ठाकुर और पटना के आसरा होम कांड की मुख्य आरोपी मनीषा दयाल के कई प्रशासनिक अधिकारियों और राजनेताओं के साथ संबंधों की सीबीआइ जांच की मांग की। पप्पू यादव ने कहा कि इसके लिए हाईकोर्ट भी जाएंगे। उन्होंने शनिवार को पत्रकारों से कहा किसत्ता और प्रतिपक्ष दल के नेता मनीषा के खिलाफ बोलने को तैयार नहीं हैं। सांसद ने सरकार से दस सवाल भी पूछे। उन्होंने कहा कि मधुबनी से बहू- बेटी बचाओ, पापी भगाओ पदयात्रा भी निकालेंगे।

कई आईएएस हैं शामिल

उन्होंने कहा कि कई आइएएस अधिकारी ब्रजेश ठाकुर और मनीषा दयाल के गैंग में शामिल दिख रहे हैं, तो क्या इन्हें बचाने और फाइलों से गड़बड़ी का साक्ष्य मिटाने को रेड में देरी की जा रही है। मंजू वर्मा ने मुंह खोल दिया है। वे नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा का नाम ले रही हैं। वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा ब्रजेश के हमप्याले रहे हैं। सांसद ने कहा कि मनीषा दयाल को समाज कल्याण विभाग में एंट्री दिलाने वाले डायरेक्टर सुनील कुमार की पहचान स्पष्ट है। फिर उनके खिलाफ कार्रवाई में देरी क्यों हो रही है। बिहार के हर घोटाले में आइएएस एसएम राजू का नाम आ ही जाता है। महादलित मिशन में घोटाला संग और न जाने कितने घोटाले बिहार में इनके नाम हो चुके हैं। अब मनीषा दयाल से भी कनेक्शन जुड़ रहा है। तो फिर राजू के खिलाफ बिहार की जांच एजेंसियां इतना कमजोर केस क्यों तैयार करती है कि उन्हें बगैर जेल गए कोर्ट से रिलीफ मिल जाती है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.