#Metoo के घेरे में आये अनु मलिक ने रियल्टी शो को कहा गुडबाय

Updated Date: Sat, 23 Nov 2019 11:23 AM (IST)

फाइनली मीटू आरोपों के चलते रियालिटी शो इंडियन आइडल सीजन 11 में अब तक बतौर जज नजर आए अनु मलिक शो से बाहर हो गए हैं। तमाम मीटू विक्टिम सेलेब्स और यूनियन वुमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट मिनिस्टर स्मृति ईरानी की ओर से चैनल को लेटर मिलने के बाद उन्होंने ये स्टैंड लिया है।

मुंबई (मिड-डे)। सोर्सेज की मानें तो अनु मलिक ने बीते थर्सडे को इंडियन आइडल शो को छोडने का डिसीजन ले लिया है। इससे पहले ट्यूजडे को उन्होंने शो के लिए अपना लास्ट एपिसोड शूट किया, जो इस वीकेंड ऑन एयर होगा। वहीं चैनल फिलहाल उनके रिप्लेसमेंट की तलाश में है।
चैनल को लेटर मिलने के बाद लिया डिसीजन
मीटू के आरोपों से घिरे म्यूजिक सिंगर एंड कम्पोजर अनु मलिक को सोनी चैनल ने दोबारा सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल सीजन 11 में बतौर जज बुलाया था। उनके शो में आने के बाद सिंगर सोना मोहापात्रा ने उनके अगेंस्ट आवाज उठाई और लगातार उनके खिलाफ लिखती रहीं। इसके बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने चैनल को नोटिस भेजकर इस बारे में इंफॉर्मेशन कलेक्ट की। इसके बाद खबर आई है कि अनु मलिक ने इंडियन आइडल-11 शो छोड़ दिया है।
फ्लैशबैक से कुछ खास
बीती गॉसिप्स को याद करें तो सोना महापात्रा ने अनु मलिक पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाया था। थर्स-डे को ही उन्होंने यूनियन वुमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट मिनिस्टर स्मृति ईरानी को लिखे ओपेन लेटर में अनु मलिक केस में दखल देने की रिक्वेस्ट की थी। इससे पहले ट्यूजडे को ईरानी ने कहा था कि इंडियन गवर्नमेंट यौन अपराधियों का एक डेटाबेस बना रही है। उनके इस बयान पर सोना ने उनको थैंक्यू बोलते हुए ऐसी कंपनीज पर  सवाल उठाए, जो सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपियों को काम दे रहे हैं।
ओपेन लेटर में लिखा था ऐसा
स्मृति ईरानी को लिखे अपने ओपेन लेटर में सोना ने लिखा, सेक्सुअल ऑफेंडर्स अक्यूज्ड्स का डेटाबेस बनाने की पहल के लिए आपका थैंक्यू, लेकिन उन ऑर्गेनाइजेशंस का क्या, जो आरोपों के बावजूद ऐसे लोगों को अपने यहां काम दे रहे हैं। इनमें सोनी टीवी भी एक है, जिसने कई फीमेल्स के आरोपों को नजरअंदाज करते हुए अनु मलिक को नेशनल टेलीविजन पर इंडियन आइडल का जज बना दिया।
कन्वे किया सेलिब्रेशन का मैसेज
वहीं अनु मलिक के शो से बाहर होने की न्यूज मिलते ही सोना ने कहा, ये उन सभी महिलाओं के लिए सेलिब्रेशन का समय है, जो किसी न किसी तरह से इंडस्ट्री के जाने-माने सेलेब्स द्वारा सेक्सुअल हैरेसमेंट का शिकार हो चुकी हैं। वैसे मैं ये मानती हूं कि स्मृति ईरानी को भेजा गया मेरा लेटर मेरा आखिरी दांव था। वैसे अनु के अगेंस्ट इस मुहिम में सोना अकेले नहीं खड़ी थीं। उनका साथ बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता, नेहा भसीन और श्वेता पंडित ने भी दिया।  

View this post on Instagram

A post shared by ANU MALIK (@anumalikmusic) on Nov 14, 2019 at 5:41am PST


जांच के लिए तैयार, लेकिन आरोप बर्दाश्त नहीं: अनु मलिक
इस बीच खबर है कि लगातार आरोपों से परेशान अनु मलिक अब इनके खिलाफ कोर्ट जा सकते हैं। इस मामले पर बात करते हुए अनु मलिक ने कहा है कि, उन्होंने अपना पक्ष म्यूजिक कंपोजर एसोसिएशन को लिखकर भेज दिया है। साथ ही रिक्वेस्ट की है कि उनका पक्ष सिंगर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया को भेज दिया जाए। अगर उनके पास कोई सबूत है तो दिखाएं। वे जांच का सामना करने को तैयार हैं, लेकिन अपने खिलाफ चल रहा अभियान और दुर्भावना से लगाए जा रहे आरोप बर्दाश्त नहीं करेंगे। इससे पहले अनु मलिक ने एक ओपन लेटर भी लिखा था, जिसमें उन्होंने खुद को निर्दोष बताया था।
hitlist@mid-day.com

Posted By: Molly Seth
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.