कीताडीह गुरुद्वारा से आज निकलेगा नगर कीर्तन

2019-01-13T06:00:16Z

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: सिखों के दसवें गुरु, गुरु गोविन्द सिंह जी के प्रकाशोत्सव को लेकर कीताडीह गुरुद्वारा से नगर कीर्तन रविवार की सुबह 11 बजे निकलेगा। इसके पहले अखंड पाठ की समाप्ति के उपरांत अरदास की जाएगी। कीताडीह गुरुद्वारा से पहली बार नगर कीर्तन निकलने को लेकर क्षेत्र के लोग अति उत्साहित है। पालकी साहिब को आकर्षक तरीके से सजाने के लिए इस बार कोलकाता के कारीगरों को बुलाया गया है। वे अपने साथ पांच हजार गुलाब व चमेली के फूल लेकर देर शाम शहर पहुंच चुके हैं और देर रात तक पालकी साहिब को सजाने में जुटे रहे।

कीताडीह गुरुद्वारा से स्टेशन चौक व गोलमुरी मस्जिद से टुइलाडुंगरी गुरुद्वारा तक कारपेट बिछाई जाएगी, जिसके ऊपर से होकर पालकी साहिब गुजरेगी। गुरुद्वारा साहिब से पालकी साहिब की रवानगी के दौरान डीआरएम छत्रसाल सिंह, सीजीपीसी के प्रधान गुरमुख सिंह मुखे, कीताडीह गुरुद्वारा के प्रधान अर्जुन सिंह वालिया, झारखंड प्रदेश गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान शैलेंद्र सिंह सहित अन्य हस्तियां उपस्थित रहेंगी।

सात घंटे नहीं रहेगी बिजली

कीताडीह गुरुद्वारा से निकलने वाले नगर कीर्तन को देखते हुए सुबह सात से दोपहर दो बजे तक कीताडीह से स्टेशन चौक तक विद्युत आपूर्ति ठप रहेगी। यह व्यवस्था सुरक्षा के नजरिये से की है। वहीं कीताडीह गुरुद्वारा से स्टेशन चौक तक सड़क पर लगे जर्जर पोल व अन्य पोल को हटा कर सड़क के किनारे लगाए गए और बिजली सप्लाई के लिए नए केबल लगाए गए। गुरु गोविंद सिंह जी के प्रकाश उत्सव को लेकर छह हजार वर्गफुट में लंगर हाल के लिए पंडाल का निर्माण कीताडीह दुर्गापूजा मैदान में किया जा रहा है, ताकि यहां करीब दस हजार संगत आराम से लंगर ग्रहण कर सके। वहीं 13 जनवरी की सुबह अखंड पाठ की समाप्ति के उपरांत कीर्तन दरबार सजेगा। इसके उपरांत पालकी साहिब की रवानगी गुरुद्वारा परिसर से ही होगी।

फूलों के ऊपर से गुजरेगी पालकी साहिब

कीताडीह गुरुद्वारा से साकची गुरुद्वारा तक फूलों के ऊपर से पालकी साहिब गुजरेगी। संगत द्वारा पहले सड़क पर पहले पानी का छिड़काव किया जाएगा, जिसके बाद वाइपर से सड़क की सफाई की जाएगी। फिर सड़क पर गेंदा के फूल बिखेरे जाएंगे, जिसके ऊपर से पालकी साहिब गुजरेगी। पालकी साहिब में अकाली दल के पंज प्यारे भाई रविन्दर सिंह, भाई हरजीत सिंह, भाई रविन्द्रपाल सिंह, भाई प्रीतपाल सिंह, भाई रामकिशन सिंह, भाई जसवीर सिंह व जत्थेदार भाई जरनैल सिंह,भाई सुखदेव सिंह खालसा मौजूद रहेंगे।

ये टीमें नगर कीर्तन में होंगी शामिल

धार्मिक स्कूल : 15

मीडिल स्कूल : 10

हाई स्कूल : 7

स्त्री सतसंग सभा : 39

कीर्तनी जत्था 2

गतका टीम : 1

जज : 2

तय पोशाक में रहेंगे

नगर कीर्तन में शामिल नौजवान सभा के सदस्य सफेद पेंट-शर्ट व केशरी पगड़ी में यातायात नियंत्रण करेंगे। जबकि स्त्री सतसंग सभा की सदस्य सफेद सलवार कमीज व केशरी चुन्नी में रहेंगी।

पंजाब का एक्स आर्मी बैंड

नगर कीर्तन में शामिल होने के लिए पंजाब का एक्स आर्मी का 13 सदस्यीय बैड बुलाया गया है। यह संगत के बीच आकर्षण के केंद्र होगा।

इस रूट से गुजरेगा नगर कीर्तन

कीताडीह गुरुद्वारा से स्टेशन चौक, से ओवर ब्रिज होते हुए बर्मामाइंस होते हुए लाल बाबा फाउंड्री से गोलमुरी मस्जिद से गुजरते हुए टुइलाडुंगरी गुरुद्वारा होते हुए आरडीटाटा गोलचक्कर क्रास करते हुए साकची गुरुद्वारा में आकर नगर कीर्तन का समापन होगा।

11 से एक बजे तक रहेगा रोड जाम

सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान गुरमुख सिंह मुखे ने कहा कि रविवार की सुबह 11 बजे से एक बजे तक स्टेशन चौक से नगर कीर्तन निकलने के कारण यह रूट जाम रहेगा। इस कारण ट्रेन पकड़ने वाले यात्रियों से यह आग्रह है कि वे समय से पहले ही टाटानगर स्टेशन पहुंच जाएं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.