इलाहाबाद को प्रयागराज मानने को तैयार नहीं रेलवे

2018-12-10T06:00:46Z

-डिस्प्ले बोर्ड पर बरेली-प्रयाग, टिकट पर इलाहाबाद और नोटिस बोर्ड पर इलाहाबाद कर रहा शो

-रिजर्वेशन कराने वाले पैंसेंजर को होती है सबसे अधिक प्रॉब्लम

-डिस्प्ले बोर्ड पर बरेली-प्रयाग, टिकट पर इलाहाबाद और नोटिस बोर्ड पर इलाहाबाद कर रहा शो

-रिजर्वेशन कराने वाले पैंसेंजर को होती है सबसे अधिक प्रॉब्लम

BAREILLYBAREILLY :

सूबे के मुखिया ने तो इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज तो कर दिया, लेकिन रेलवे आज भी इलाहाबाद को प्रयागराज मानने को तैयार नहीं हैं। यही कारण है कि रेलवे ने अपने सिस्टम में अभी तक उसे प्रयागराज दर्ज नहीं किया है। इससे रेलवे रिजर्वेशन कराने वाले पैसेंजर्स को सबसे अधिक प्रॉब्लम हो रही है। रिजर्वेशन कराने जंक्शन पर पहुंचने वाले पैसेंजर्स यह समझने में कंफ्यूज हो रहे है कि बरेली टू इलाहाबाद लिखा जाए या फिर बरेली टू प्रयागराज।

लाइन से आना पड़ता है वापस

बरेली जंक्शन के रिजर्वेशन काउंटर पर रिजर्वेशन कराने वाले पैसेंजर्स बरेली टू प्रयागराज जाने के लिए रिजर्वेशन फॉर्म फिल करते हैं। तो वह प्रयागराज लिख रहे हैं, लेकिन जब वह लाइन में लगकर काउंटर तक पहुंचते तो उन्हें बताया जाता है कि आपने फॉर्म गलत फिल कर दिया है। इस पर प्रयागराज की जगह इलाहाबाद लिखकर लाओ। फॉर्म ठीक करने के लिए पैसेंजर काउंटर के पास से लाइन छोड़कर अपना फॉर्म ठीक करने जाता है तब तक उसकी जगह पर पीछे लाइन में लगा पैसेंजर आ जाता है। इसके बाद जब तक वह फॉर्म ठीक करके काउंटर पर पहुंचता है तो उन्हें लाइन में लगने वाला कोई भी व्यक्ति आगे नहीं लगने देता। इस छोटी सी कमी के चलते उन्हें दोबारा फिर से लाइन में पीछे से लगकर रिजर्वेशन कराने का इंतजार करना पड़ता है। परेशान पैसेंजर्स जब इस बारे में शिकायत करते हैं तो उन्हें बताया जाता है कि यह गलती हमारी नहीं है, मुरादाबाद ऑफिस से ही सिस्टम में अपडेट कर इलाहाबाद को प्रयागराज किया जाएगा। फिलहाल सिस्टम में अभी इलाहाबाद ही दर्ज है।

================

प्रयागराज जाने के लिए रिजर्वेशन कराने कराने आया हूं। इलाहाबाद का नाम जब प्रयागराज हो गया तो मैंने भी प्रयागराज लिख दिया लेकिन ख्0 मिनट लाइन में लगकर जब काउंटर पर पहुंचा तो इलाहाबाद लिखने को कह दिया। दोबारा लाइन में लगा तो क्भ् मिनट और खराब हो गए।

अनूप, पैसेंजर

-----------

सरकार ने इलाहाबाद का नाम प्रयागराज कर दिया, लेकिन रेलवे ने अभी तक सिस्टम में दर्ज नहीं किया। मेरा आधा घंटा प्रयागराज और इलाहाबाद के फेर में खराब हो गया। दो माह में भी सिस्टम अपडेट नहीं होने से पैसेंजर्स परेशान होते हैं।

शिवेन्द्र, पैसेंजर

वर्जन दिया जाएगा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.