पाकिस्तान : पूर्व पीएम नवाज शरीफ की हालत अभी भी गंभीर, फिर से गिर रहे हैं प्लेटलेट्स

Updated Date: Sat, 02 Nov 2019 05:27 PM (IST)

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के स्वास्थ्य की स्थिति गंभीर बनी हुई है क्योंकि उनकी प्लेटलेट काउंट फिर से गिर गई है। बता दें कि एक दिन पहले उनका प्लेटलेट्स 51000 तक पहुंच गया था।


लाहौर (पीटीआई)। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की हालत गंभीर बनी हुई है क्योंकि उनकी प्लेटलेट काउंट फिर से नीचे गिर गई है। उनके निजी चिकित्सक ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी है। बता दें कि एक दिन पहले शरीफ का प्लेटलेट्स 51,000 तक पहुंच गया था। 69 वर्षीय शरीफ को सोमवार की रात को पाकिस्तान के एंटी-ग्राफ्ट बॉडी की कस्टडी से अस्पताल में भर्ती कराया गया था, क्योंकि उनके प्लेटलेट्स 2,000 के निचले स्तर तक गिर गए थे। गुरुवार को, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) सुप्रीमो के प्लेटलेट्स 35,000 से बढ़कर 51,000 हो गए, जिससे उसकी हालत में सुधार हुआ।आठ सप्ताह के लिए उनकी सजा निलंबित
अदनान खान ने कहा, 'पूर्व पीएम नवाज शरीफ की हालत गंभीर बनी हुई है। इलाज करने वाले डॉक्टरों ने उन्हें दी जा रही स्टेरॉयड की खुराक को कम करने की कोशिश की, लेकिन दुर्भाग्य से कल प्लेटलेट काउंट में गिरावट आई है।' डॉक्टर ने कहा कि बिना किसी देरी के फिलहाल उनके प्लेटलेट्स में गिरावट का कारण पता लगाना है और उसे ठीक करना है। मंगलवार को, डॉक्टर ने ट्वीट करके बताया था कि पूर्व प्रधानमंत्री का स्वास्थ्य गंभीर स्थिति में है और वह जीवित रहने की लड़ाई लड़ रहे हैं। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने मंगलवार को एक भ्रष्टाचार के मामले में शरीफ की सजा को आठ सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया, चिकित्सा आधार पर उनकी रिहाई की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया।पाकिस्तान में पूर्व पीएम नवाज शरीफ के परिवार के खिलाफ दर्ज होगा भ्रष्टाचार का नया मामलालाहौर हाई कोर्ट से पहले ही मिल गई है जमानतहालांकि, चौधरी शुगर मिल्स से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उन्हें पहले ही लाहौर हाई कोर्ट से जमानत मिल गई है। इसके अलावा बेहतर इलाज के लिए शरीफ को लंदन शिफ्ट करने के बारे में, पीएमएल-एन के महासचिव अहसान इकबाल ने बुधवार को पीटीआई को बताया कि डॉक्टरों का पहला और सबसे महत्वपूर्ण प्रयास उनकी स्थिति को स्थिर करना है। उन्होंने कहा, 'एक बार जब उनकी हालत स्थिर हो जाती है, तो उनके विदेश जाने पर फैसला किया जाएगा।' 24 दिसंबर, 2018 को, एक अदालत ने अल-अजीजिया स्टील मिल्स भ्रष्टाचार मामले में शरीफ को सात साल जेल की सजा सुनाई थी और उन्हें फ्लैगशिप मामले में बरी कर दिया था।

Posted By: Mukul Kumar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.