चोरी का नया स्टाइल सेंध लगाई सामान समेटा और लिख गए चोर

2019-05-04T12:05:24Z

गोलघर की तीन दुकानों में छत से घुसकर की चोरी।

gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR : गोलघर की तीन दुकानों में सेंध लगाकर चोरों ने नकदी सहित लाखों रुपए का सामान समेट लिया। गणेश चौराहे के पास दुकानों में हुई चोरी की जानकारी शुक्रवार सुबह दुकान खुलने पर हुई। दुकान के पीछे की तरफ से पेड़ों के सहारे छत पर चढ़कर चोरों ने बारीबारी से सेंध लगाकर कुंडी तोड़ी। आराम से दुकानों में घुसकर सामान समेटा। एक दुकान में रखे फ्रिज से निकालकर चोरों ने फ्रूट जूस पिया। स्पे्र पेंट से दीवार पर लगे पोस्टर पर चोर लिखकर फरार हो गए। इंस्पेक्टर कैंट ने बताया कि तीन दुकानों में चोरी की सूचना पर छानबीन की जा रही है। मौके से चोरी का एक उपकरण बरामद हुआ।


पेड़ के रास्ते चढ़े छत पर

गणेश चौराहा, जक जलाल में बिलंदपुर के गोविंद प्रसाद गुप्ता की वाणी केंद्र नाम से टीवी, फ्रिज सहित अन्य इलेक्ट्रानिक सामान की दुकान है। चोरी की शुरुआत इनकी दुकान से हुई। दुकान के पीछे खाली पड़ी भूमि पर पेड़ लगे हैं। गुरुवार देर शाम दुकान बंद कर मालिक और कर्मचारी घर चले गए। शुक्रवार सुबह 11 बजे पहुंचे तो पता लगा कि छत पर लगी कटरैन को हटाकर दुकान में चोर घुसे थे। गोविंद की शॉप से चोरो ने काउंटर तोड़कर 560 रुपए नकदी और एक एलसीडी सहित करीब 50 हजार का सामान चुरा लिया था। बगल में गीता वाटिका निवासी एमए खान की किचन साल्यूशन नाम से शॉप है। कांउटर सहित अन्य आलमारी और कमरे को खंगाल डाला था। कुछ नहीं मिला तो फ्रिज में रखा फ्रूट जूस निकालकर पीया। वहां फ्रूट जूस के दो रैपर मिले, जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि चोरों की तादाद दो से अधिक रही होगी। वहीं बेतिहायाता के आशुतोष जायसवाल की वधु वाटिका नाम से कपड़ों की शॉप है। उनकी दुकान में भी चोर घुसे थे। कुंडी की दीवार की ईट काटकर चोरों ने काउंटर खंगाला। कैश बॉक्स में रखा 10450 रुपए नकदी, तीन लहंगे और 10 साडिय़ां समेट ले गए। सूचना पर पुलिस आसपास दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरे देखकर चोरों की शिनाख्त में जुटी रही।
चोरी की छानबीन की जा रही है। चोरों का जल्द पता लगा लिया जाएगा। दुकान में सेंध लगाकर चोरियां हुई हैं।
रवि राय, इंस्पेक्टर कैंट



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.