क्रेडिट कार्ड से पेमेंट पर नहीं लगेगा दो बार GST, फेक न्‍यूज का सच आया सामने

2017-07-06T15:54:29Z

हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक मैसेज में कहा जा रहा था कि GST लागू होने के बाद क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने पर अब लोगों को दो बार जीएसटी का भुगतान करना होगा। अब फाइनेंस मिनिस्‍ट्री की ओर से इस मैसेज की सच्‍चाई सामने लाई गई है।

राजस्व सचिव ने कहा, पूरी तरह गलत है वायरल मैसेज
1 जुलाई से देश भर में लागू हुए जीएसटी को लेकर आम लोगों और कारोबारियों के बीच असमंजस की स्थिति तो बनी ही हुई है। वहीं इस बीच ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्सएप जैसे सोशल प्लेटफॉर्म पर जीएसटी को लेकर फैल रही अफवाहों से स्थिति बेहद पेचीदा होती जा रही है। ऐसा ही एक मैसेज क्रेडिट कार्ड को लेकर भी है, जिसमें कहा जा रहा है कि क्रेडिट कार्ड पेमेंट में ग्राहकों को दो जगहों पर जीएसटी लगने की बात कही जा रही है। इन अफवाहों को लेकर सरकार भी हरकत में आ गई है। जीएसटी के रचनाकार कहे जाने वाले राजस्व सचिव हंसमुख अधिया खुद ट्विटर पर लोगों की उलझनों को सुलझाते हुए अफवाहों से सचेत रहने की बात कह रहे हैं।


पूरी तरह से गलत मैसेज
हंसमुख अधिया ने ट्विटर पर कहा कि कई सोशल प्लेटफॉर्म पर गलत मैसेज चलाया जा रहा है कि अगर आप यूटिलिटीज बिल का पेमेंट क्रेडिट कार्ड से करते हैं तो आपको दो बार जीएसटी देना होगा। अधिया ने इस पर कहा कि यह पूरी तरह से गलत मैसेज है। उन्होंने कहा कि ऐसे मैसेज सोशल मीडिया में डालने से पहले उसकी असलियत जरूर जांच लें।

यदि आपके कई बैंकों में हैं खाते तो यह खबर जरूर पढें    


ये है मैसेज

मैसेज में कहा जा रहा है कि यदि आप यूटिलिटी बिल का भुगतान क्रेडिट कार्ड से करते हैं तो भुगतान के वक्त जीएसटी काटा जाएगा, फिर बिल पेमेंट के समय सर्विस टैक्स के रूप में फिर से जीएसटी देना होगा।

नया फैसला, हर एक के लिए अनिवार्य नहीं है पैन को आधार से लिंक करना


ये है क्लेरिफिकेशन

आप को बता दें कि जीएसटी लागू होने से पहले भी क्रेडिट कार्ड से यूटिलिटी बिल का भुगतान करने पर सर्विस टैक्स नहीं लगाया जाता था। यूटिलिटी सर्विस प्रोवाइडर क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड देने वाले बैंक को एक मामूली राशि देता था जिसे मर्चेंट डिस्काउंट रेट कहते हैं। सर्विस टैक्स केवल मर्चेंट डिस्काउंट रेट पर लगाया गया था जिसे यूटिलिटी सर्विस प्रोवाइडर ही वहन करता था। ज्यादातर मामलों में सर्विस प्रोवाइडर क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड से पेमेंट लेने के लिए अलग से किसी अमाउंट की डिमांड नहीं करते थे।

फ्लाइट की तरह ट्रेनों में भी होगा इकोनॉमी क्लास, किराया होगा थर्ड एसी से कम

Business News inextlive from Business News Desk

Posted By: Chandramohan Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.