सिद्धार्थ की तलाश में नोएडा पहुंची पुलिस

2015-11-27T07:41:25Z

लव, ड्रग एंड सेक्स स्कैंडल

- एक अन्य नामजद शाकिब के पकड़ने के लिए किठौर रवाना हुई एक अन्य टीम

- स्कैंडल का मुख्य आरोपी है सिद्धार्थ, पीडि़ता के साथ था आरोपी का अफेयर

Meerut: शहर के चर्चित लव, ड्रग एंड सेक्स स्कैंडल में आरोपियों पर पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है। एक ओर पीडि़त के पक्ष में लामबंद शहर की आवाम पुलिस की मुश्किलें बढ़ा रही है तो वहीं इस प्रकरण में शामिल रसूखदार सत्ता का डर दिखा रहे हैं। प्रकरण के मुख्य आरोपी समेत एक अन्य आरोपी की धरपकड़ के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है। गुरुवार को पुलिस की एक टीम ने सिद्धार्थ को दबोचने के लिए नोएडा का रुख किया तो एक अन्य किठौर में शाकिब की तलाश कर रही है।

नोएडा पहुंची पुलिस

पीडि़ता के साथ का प्रपंच रचने वाले मुख्य आरोपी सिद्धार्थ की तलाश में गुरुवार के मेरठ की एक पुलिस टीम नोएडा पहुंची। पुलिस टीम ने कई स्थानों पर सिद्धार्थ की तलाश में दबिश दी। बता दें कि शास्त्रीनगर के ब्लॉक निवासी सिद्धार्थ पुत्र रामकुमार वर्मा शास्त्रीनगर, एल-ब्लॉक का रहने वाला है। आरोप है कि सिद्धार्थ की 27 जुलाई को पीडि़ता को लेकर गंगानगर स्थित गेस्ट हाउस पहुंचा था। पेस्ट्री में मिलाकर ड्रग भी पीडि़ता को सिद्धार्थ ने ही दिया था।

तीन आरोपी पुलिस गिरफ्त में

परिजनों के साथ पीडि़ता ने 19 नवंबर को एसएसपी दिनेश चंद्र दूबे से शिकायत की। शिकायत की बिना पर मेडिकल थाना पुलिस ने पांच नामजद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपी जैदी कॉलोनी निवासी अरीब पुत्र मोहम्मद असलम को गिरफ्तार कर लिया था। नामजद आरोपियों में मूलरूप से किठौर निवासी शाकिब के पिता सपा नेता हैं तो वहीं अन्य आरोपियों की पैरवी में भी सत्ता पक्ष आ गया। बढ़ रहे दबाव के चलते पुलिस के हाथ-पैर ढीले पड़ गए तो वहीं डीजीपी जगमोहन यादव के मेरठ आने से एक दिन पहले पुलिस ने दो अन्य आरोपी शुभम और शशांक को तेजगढ़ी चौराहे से गिरफ्तार कर लिया। दो आरोपी शाकिब और सिद्धार्थ अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

किठौर में खाक छान रही पुलिस

गुरुवार को मेडिकल थाना पुलिस की दो टीमें दोनों आरोपियों की धरपकड़ के लिए लगातार दबिश दे रही थीं। एक टीम आरोपी शाकिब की तलाश में किठौर पहुंची। यहां टीम ने शाकिब के मकान पर उसको तलाश किया, सफलता न मिलने पर टीम ने पड़ोस के गांव में एक मकान पर दबिश दी। सूत्रों के मुताबिक पुलिस दोनों आरोपियों के नजदीक पहुंच चुकी है। शुक्रवार तक दोनों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए मेडिकल थाना पुलिस को जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए गए हैं। तीन नामजद पकड़े जा चुके हैं जबकि दो अन्य आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी होगी। इस स्कैंडल से जुड़े सभी आरोपियों की पुलिस फेहरिस्त बना रही, जल्द बड़ी कार्रवाई होगी।

दिनेश चंद्र दूबे, एसएसपी, मेरठ

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.