प्रवासी भारतीय दिवस काशी में आज से एनआरआई महाकुंभ का आगाज

2019-01-21T13:34:45Z

21 से 23 जनवरी तक आयोजित प्रवासी भारतीय दिवस में राष्ट्रपति प्रधानमंत्री का होगा आगमन। स्वागत के लिए सजा बनारस ऐतिहासिक क्षणों के गवाह बनेंगे टेंट सिटी और टीएफसी।

varanasi@inext.co.in
VARANASI : सांस्कृतिक राजधानी वाराणसी में सोमवार से एनआरआई महाकुंभ का भव्य आगाज हो गया है। 21 से 23 जनवरी तक चलने वाले इस प्रवासी भारतीय दिवस में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सीएम योगी आदित्यनाथ, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, सिने स्टार हेमा मालिनी समेत 75 देशों की बड़ी हस्तियोंं के साथ करीब पांच हजार एनआरआई शिरकत कर रहे हैं। मेजबानी के लिए पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र बनारस सज चुका है। ऐतिहासिक क्षणों का गवाह बनने के लिए टीएफसी अद्भुत स्वरूप ले चुका है। इनकी मेहमाननवाजी के लिए टेंट सिटी, टीएफसी के साथ पूरे शहर को लाइट्स और पेंटिंग से सजाया गया है। 42 एकड़ में फैली टेंट सिटी पूरी तरह से काशीमय हो गयी है। गंगा घाट और ऐतिहासिक धरोहरों की आकर्षक छवि से सुसज्जित टीएफसी मानो कह रहा हो कि मैं जिंदा शहर बनारस हूं।
पहला दिन यूथ के नाम
टे्रड फेसिलिटेशन सेंटर में पहले सत्र में सुबह करीब 9.30 बजे यूथ प्रवासी भारतीय दिवस का शुभारम्भ हुआ। कार्यक्रम को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय खेल मंत्री कर्नल राज्य वर्धन सिंह राठौर, जनरल वीके सिंह, नार्वे के सांसद हिमांशु गुलाटी, न्यूजीलैंड सांसद कमलजीत सिंह ने संबोधित किया। दूसरे सेशन में यूपी प्रवासी भारतीय दिवस का शुभारम्भ होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसका उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह, एनआरआई मिनिस्टर स्वाति सिंह भी शिरकत करेंगी। 42 प्रवासियों के साथ सीएम के लंच और डिनर का कार्यक्रम है।
इतिहास के पन्नों में होगा दर्ज
टे्रड फेसिलिटेशन सेंटर में मंगलवार सुबह करीब सवा दस बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15वें प्रवासी भारतीय दिवस का उद्घाटन करेंगे। पांच हजार प्रवासियों के अलावा मॉरीशस के पीएम प्रवींद जगन्नाथ, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज समेत तमाम बड़ी हस्तियां इस कार्यक्रम का गवाह बनेंगी। कुछ खास प्रवासियों से पीएम मोदी संवाद के साथ लंच भी करेंगे।
राष्ट्रपति करेंगे शिरकत
टे्रड फेसिलिटेशन सेंटर के सामने क्रीड़ा संकुल में बुधवार को समापन कार्यक्रम होगा। जिसके साक्षी बनेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद। राष्ट्रपति के हाथों से कई प्रवासी भारतीय सम्मानित होंगे। इसके पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज स्वागत भाषण देंगी। अंतिम दिन राज्यपाल रामनाइक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी रहेगी।

प्रवासी भारतीय दिवस : परंपरा और तरक्की जानेंगे एनआरआई, 22 जनवरी को पीएम करेंगे उद्घाटन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.