जब सचिन के रन आउट होने पर स्टेडियम में कुर्सियां तोड़ने लगे थे दर्शक, जानें फिर कैसे पूरा हुआ मैच

19 फरवरी का दिन भारतीय क्रिकेट इतिहास के लिए कभी नहीं भूलने वाला है। यह वो दिन था जब कोलकाता के र्इडन गार्डन में सचिन को रन आउट देने पर दर्शक भड़क गए आैर स्टेडियम में तोड़ने लगे कुर्सियां...

Updated Date: Tue, 19 Feb 2019 09:01 AM (IST)

कानपुर। आज से 20 साल पहले क्रिकेट मैदान पर एक ऐसी घटना घटी जिसने पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया था। क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट खेलने ईडन गार्डन के मैदान पर उतरे। अभी उन्हें क्रीज पर आए कुछ ही समय हुआ था कि पाक फील्डर नदीम खान ने उन्हें रन आउट कर दिया। फिर क्या स्टेडियम में बैठे सारे दर्शक हंगामा करने लगे। बवाल इतना हुआ कि स्टेडियम खाली कराकर मैच करवाना पड़ा। 1999 में हुआ था वो मैच
भारत और पाकिस्तान के बीच जब-जब मैदान पर जंग हुई तो एक रोमांचक मुकाबला देखने को मिला है। पिछले कुछ सालों से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज भले ही रुकी हुई है। मगर 90 के दशक में भारत-पाकिस्तान के बीच कई विवादास्पद मैच खेले गए। ऐसा ही एक मैच हुआ था फरवरी 1999 में। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, पाकिस्तान की टीम भारत आई थी और कोलकाता के ईडन गार्डन में एशियन टेस्ट चैंपियनशिप का पहला मैच खेला गया। पाकिस्तान ने पहली पारी में 185 रन बनाए, जवाब में भारतीय टीम पहली पारी में 223 रन पर ऑलआउट हो गई।इस वजह से हुआ था विवाद


दूसरी पारी में पाकिस्तान के सईद अनवर के 188 रन की बदौलत पाक टीम ने 316 रन बना दिए। अब भारत को मैच जीतने के लिए 279 रन चाहिए थे। 19 फरवरी को भारतीय बल्लेबाज मैच जीतने के इरादे से मैदान पर उतरे। दर्शकों को लगा कि भारतीय टीम इस लक्ष्य को आसानी से पा लेगी। शुरुआत भी अच्छी हुई, वीवीएस लक्ष्मण ने 67 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली। मगर तीन विकेट जल्दी गिर जाने के बाद सचिन तेंदुलकर ने मैदान पर कदम रखा। उस वक्त सचिन अपनी बल्लेबाजी के चरम पर थे। तेंदुलकर पर सभी लोगों को भरोसा था, मगर वह 9 रन बनाकर रन आउट हो गए। यह रनआउट सामान्य नहीं था, क्योंकि पाक गेंदबाज शोएब अख्तर ने जानबूझकर सचिन के रास्ते में आए जिससे वह क्रीज पर नहीं पहुंच सके। इसके बाद थर्ड अंपायर ने सचिन को रनआउट करार दे दिया। मैदान पर मौजूद दर्शकों को यह बात अच्छी नहीं लगी, हंगामा शुरु हो गया। मैच को बीच में रोकना पड़ा।  खाली स्टेडियम में खेला गया मैच

बाद में सचिन तेंदुलकर ने पुलिस के साथ दर्शकों को समझाने की कोशिश की। मगर कोई सुनने वाला नहीं था। आखिरकार ग्राउंड स्टॉफ और पुलिस ने स्टेडियम खाली कराकर मैच पूरा कराया। टेस्ट के आखिरी दिन कोई भी दर्शक स्टेडियम में नहीं था तब जाकर मैच खत्म हो सका। भारत यह मैच 46 रन से हार गया था।पुलवामा आतंकी हमले से दुखी विराट कोहली ने लिया ये बड़ा फैसलासचिन के इकलौते शतक का गवाह रहा ये स्टेडियम नहीं होगा बंद

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.