विराट कोहली ने आज ही किया था डेब्यू, 12 साल में बनाए ये 12 वर्ल्ड रिकाॅर्ड

Updated Date: Tue, 18 Aug 2020 10:30 AM (IST)

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने 12 साल पहले आज ही के दिन इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था। साल 2008 से लेकर अब तक विराट ने टेस्ट और वनडे में कई कीर्तिमान स्थापित किए। आइए नजर डालते हैं विराट के 12 साल के 12 रिकाॅर्ड के बारे में।

कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। 18 अगस्त 2008 को भारत के कप्तान विराट कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। उन्होंने अपना पहला वनडे श्रीलंका के खिलाफ दांबुला में खेला और केवल 12 रन बनाने में सफल रहे। हालांकि पहला मैच कुछ खास न होने के बावजूद कोहली टीम में बने रहे। विराट को अपने पहले शतक के लिए 14 मैचों का इंतजार करना पड़ा, और आखिरकार उन्होंने 2009 में कोलकाता में श्रीलंका के खिलाफ 100 रन का स्कोर बनाया। उन्होंने 109 रन की पारी खेली थी।

इंटरनेशनल क्रिकेट में अब 12 साल पूरे
कोहली को इंटरनेशनल क्रिकेट में अब 12 साल हो गए हैं। एकदिवसीय क्रिकेट में उन्होंने 43 शतक दर्ज किए हैं। 31 वर्षीय कोहली ने अब तक 248 वनडे खेले हैं, जिसमें उन्होंने 59.33 के औसत से 11,867 रन बनाए हैं, जिसमें उनका सर्वोच्च स्कोर पाकिस्तान के खिलाफ 183 है।भारतीय कप्तान वनडे रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर है और टेस्ट रैंकिंग में दूसरे स्थान पर है। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने अब तक 86 टेस्ट खेले हैं, जिसमें 27.6 की औसत से 53.62 की औसत से 7,240 रन बनाए हैं। 2019 में पुणे में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 254 रन की उनकी पारी अब तक का उनका सर्वोच्च टेस्ट स्कोर है।

12 साल में कोहली के 12 वर्ल्ड रिकाॅर्ड

- कोहली सबसे तेज 10000 वनडे रन तक पहुंचने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए महज 205 पारियों में यह कारनामा किया था। जबकि तेंदुलकर को इस मुकाम तक पहुंचने में 259 पारियां खेलनी पड़ी थी।

- विराट को 10000 वनडे रन हासिल करने में केवल 10 साल 68 दिन लगे। किसी भी बल्लेबाज द्वारा दस हजार वनडे रन तक पहुंचने का यह अब तक का सबसे तेज रिकाॅर्ड है। पहले यह रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के पास था, जिन्होंने 10 साल और 317 दिनों में यह कारनामा पूरा किया था मगर विराट अब आगे निकल आए।

- भारतीय कप्तान विराट कोहली दो अलग-अलग विरोधियों के खिलाफ लगातार तीन शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने श्रीलंका और वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की है।

- भारतीय कप्तान एक कैलेंडर वर्ष (11 पारी) में 1000 एकदिवसीय रन बनाने वाले सबसे तेज व्यक्ति हैं। पिछला रिकॉर्ड हाशिम अमला के पास था जिन्होंने सिर्फ 15 पारियों में उपलब्धि हासिल की थी।

- कोहली टेस्ट में कप्तान के रूप में 4,000 रन तक पहुंचने वाले सबसे तेज बल्लेबाज हैं। वह महज 65 पारियों में यहां तक पहुंचे। पिछला रिकॉर्ड ब्रायन लारा के पास था, जिन्होंने 71 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी।

- कोहली दसवीं बार किसी टेस्ट मैच की दो पारियों में 200 रन बनाने वाले पहले कप्तान हैं। वैसे बता दें वनडे की तरह टेस्ट में भी विराट का बल्ला जमकर चलता है।

On this day in 2008, a young @imVkohli donned the #TeamIndia jersey for the first time and as they say the rest is history.
Here's congratulating #TeamIndia Captain on #12YearsOfVirat pic.twitter.com/ietcVCDfrG

— BCCI (@BCCI) August 18, 2020

- 31 वर्षीय विराट छह अलग-अलग मौकों पर द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखला में 300 से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं।

- कोहली 9000 वनडे रन बनाने वाले सबसे तेज बल्लेबाज हैं। विराट ने अपनी 194वीं पारी में यह उपलब्धि हासिल की थी। उन्होंने एबी डिविलियर्स द्वारा रखे गए रिकॉर्ड को तोड़ा, जिन्होंने 205 पारियों में इसे हासिल किया था।

- विराट कोहली को चेज मास्टर भी कहा जाता है। यही वजह है कि वनडे की दूसरी पारी में बल्लेबाजी करते हुए उनके पास सबसे ज्यादा शतक (23) हैं। ओवरऑल विराट ने वनडे में 43 शतक हैं।

- विराट कोहली अपने अंतरराष्ट्रीय खेल करियर में 50 से अधिक की औसत से 15,000 से अधिक रन बनाने वाला एकमात्र खिलाड़ी है।

- भारतीय कप्तान ने दिसंबर 2017 में कप्तान के रूप में टेस्ट में अपना छठा दोहरा शतक बनाया था। किसी भी कप्तान द्वारा सबसे अधिक डबल सेंचुरी है। पिछला रिकॉर्ड ब्रायन लारा के पास था, जिन्होंने अपनी कप्तानी में पांच बार ये कारनामा किया था।

- विराट कोहली एक कैलेंडर वर्ष में छह एकदिवसीय शतक लगाने वाले पहले कप्तान हैं। विराट कोहली ने अंतरराष्ट्री मैच में अपने 20,000 रन भी पूरे कर लिए हैं और बहुत तेजी से इतना रन बनाने वाले वह विश्व के पहले खिलाड़ी भी बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा का रिकॉर्ड तोड़ा है। कोहली ने सिर्फ 416 अंतरराष्ट्रीय पारी (टेस्ट में 131, वनडे में 223 और T20I में 62) में ही 20000 रन के आकड़े को पार कर लिया है। वहीं सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा ने 453 अंतरराष्ट्रीय पारी में 20000 रन बनाये थे।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.