मौत का शार्ट सर्किट

2018-12-15T06:00:05Z

-मोहद्दीपुर में झुलसी युवती की मौत, मां-बेटे गंभीर

-बिजली के शार्ट सर्किट से खतरे में पड़ा पूरा कुनबा

GORAKHPUR:

मोहद्दीपुर मोहल्ले में शार्ट सर्किट से लगी आग में युवती की मौत हो गई। उसकी मां और भाई गंभीर रूप से झुलस गए। घटना शुक्रवार सुबह करीब साढ़े सात बजे हुई। मोहल्ले के लोगों के सूचना पर पुलिस मामले की जांच में जुटी है। परिवार के मुखिया सऊदी अरब में ड्राइवर हैं। सीओ कैंट ने बताया कि शार्ट सर्किट की बात सामने आई है। फायर ब्रिगेड और फारेसिंक टीम जांच में जुटी है। हादसे से पूरे मोहल्ले के लोग सकते में रहे।

सुबह अचानक कमरे में लगी आग, फंसा कुनबा

मोहद्दीपुर निवासी शत्रुघ्न उर्फ लड़ी जायसवाल का मकान मोहद्दीपुर में है। सऊदी अरब में रहकर वाहन चलाने वाले शत्रुघ्न की पत्नी अंजू जायसवाल, बड़ी बेटी डिंपल और बेटा अमन घर पर रहते थे। मकान के अगले हिस्से में दुकानें हैं, जबकि निचले हिस्से में किराएदार रहते हैं। शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे जली हुई हालत में भागते हुए अमन कमरे से बाहर निकला। पड़ोस में रहने वाले राकेश कुमार टहल रहे थे। उसने बताया कि घर में आग लग गई है। पड़ोसी जब पहुंचे तो कमरे से धुआं और लपटे निकल रही थीं। मां और बहन के अंदर फंसे होने की बात कहकर बेटा शोर मचाता रहा। घर में आग लगने पर लोगों ने बिजली काटने के लिए हाईडिल पर फोन किया।

झुलसने से गई युवती की जान, मां-बेटे की हालत नाजुक

बिजली कटने पर लोगों ने आग बुझाने की कोशिश की। दमकल की गाडि़यां भी पहुंच गई। आग में परिवार के लोगों के फंसने की सूचना पर पुलिस आई। लेकिन तब डिंपल की मौत हो चुकी थी। झुलसे हुए मां-बेटे को पड़ोसियों की मदद से तत्काल जिला अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने उनकी हालत नाजुक बताई। पुलिस की जांच में सामने आया कि शार्ट सर्किट से कमरे में आग लगी थी। हकीकत जानने के लिए फारेसिंक एक्सपर्ट्स की टीम भी पहुंची। फायर विभाग ने कमरे को सील कर दिया। हालांकि लोगों ने यह भी कहा कि गैस रिसने से किचन में आग लगी। किचन में सामान सुरक्षित थी। बेडरूम में ही सारा सामान जला था। घर में रखे रेफ्रिरेजटर के जलने से उसमें ही शार्ट सर्किट की आशंका जताई जा रही। डिंपल बीटीसी कर रही थी। अमन नौंवी कक्षा का स्टूडेंट है। पुलिस मान रही है कि घटना के समय पूरा परिवार साे रहा था।

पहले भी हुई शार्ट सर्किट से घटनाएं

बिजली के उपकरणों में शार्ट सर्किट से आग लगने की घटनाएं पहले भी हो चुकी है। सितंबर में बेलीपार एरिया के नौसढ़ बाजार में शार्ट सर्किट से लगी आग में मां और उसके दो बच्चों की मौत हो गई थी। 18 सितंबर को हुई घटना से पूरा एरिया दहल उठा था। आसपास के घरों में कई दिनों तक भोजन नहीं पका। लोग हादसे को याद कर सिहर जाते थे। उस घटना को लोग ठीक से भूल पाते। इसके पहले यह घटना सामने आ गई।

हाल में हुई बड़ी घटनाएं

14 दिसंबर 2018: मोहद्दीपुर में शार्ट सर्किट से आग लगी, युवती की मौत, मां-बेटे झुलसे।

18 सितंबर 2018: बेलीपार एरिया के नौसढ़ में शार्ट सर्किट से आग, महिला और दो बच्चों की मौत

09 नवंबर 2018: कैंपियरगंज एरिया के रामनगर केवटलिया में शार्ट सर्किट से आग में झुलसे बच्चे की जान गई।

ये बरतें सावधानी

घर में बिजली की वायरिंग ठीक रखें। लोड के हिसाब से तारों की वायरिंग कराएं।

बेडरूम में बिजली के उपकरणों को न रखें। ब्रांडेड कंपनियों के उपकरण यूज करें।

शार्ट सर्किट रोकने के लिए आटोकट स्विच लगवाएं। प्रापर मेटिनेंस पर ध्यान देते रहें।

बिजली के उपकरणों से बच्चों को दूर रखें। सिरहाने मोबाइल रखकर कतई चार्ज न करें।

प्लग्स को अच्छी तरह से कसकर लगाएं। ढीले रहने पर स्पार्किंग से आग का खतरा होता है।

बिजली के उपकरण को लगाने के लिए हमेशा प्रशिक्षित इलेक्ट्रिशियन को बुलाएं।

इमरजेंसी के दौरान भागने के लिए सीढि़यों और रिफ्यूज एरिया को खाली रखें।

गैस, स्टोव और सिलेंडर के पास बिजली के उपकरणों को कतई न रखें। जोखिम बढ़ जाता है।

वर्जन

कमरे में आग लगने से छात्रा की मौत हुई। आग से उसके भाई और मां झुलस गए। उनको पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया है। आग आग कैसे लगी थी। इसकी जांच पड़ताल की जा रही है।

प्रभात राय, सीओ कैंट


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.