हजरतगंज और चौक में भी जल्द लागू होगा वनवे प्लान

2019-11-19T05:45:14Z

- 1090 चौराहे पर वन-वे प्लान सफल होने के बाद दूसरे इलाकों पर ट्रैफिक पुलिस की नजर

- 17 बिजी रोड वन-वे के लिये चिन्हित, जाम से निजात दिलाने को ट्रैफिक पुलिस ने बनाया प्लान

pankaj.awasthi@inext.co.in

LUCKNOW:

पीक आवर्स में 1090 चौराहा और आसपास की रोड पर लगने वाले जाम को वन-वे प्लान से दुरुस्त करने के बाद अब लखनऊ ट्रैफिक पुलिस की नजर राजधानी के दो सबसे व्यस्त इलाकों हजरतगंज और चौक पर गड़ गई हैं। इसके लिये लखनऊ ट्रैफिक पुलिस ने इन दोनों इलाकों के लिये वन-वे प्लान तैयार किया है। बताया जा रहा है कि इस प्लान को भी जल्द लागू करने की तैयारी है। जिसके बाद इन इलाकों को भी जाम से मुक्ति मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

वन-वे ही विकल्प

राजधानी में वाहनों की संख्या में दिनो-दिन बढ़ोत्तरी होती जा रही है। अगर राजधानी की रोड्स पर रोजाना दौड़ने वाले वाहनों के आंकड़े पर गौर करें तो पता चलता है कि वर्तमान में राजधानी में 17 लाख दोपहिया वाहन, 5 लाख प्राइवेट कार, 1.50 लाख कॉमर्शियल भार व सवारी वाहन, 17000 ई-रिक्शा, 4545 ऑटो और 2400 के करीब टेम्पो हैं। इनमें से अधिकांश वाहन रोजाना हजरतगंज या चौक से होकर ही गुजरते हैं। वाहनों की इतनी बड़ी तादाद के बावजूद सड़कों की चौड़ाई वही है। लिहाजा, लखनऊ ट्रैफिक पुलिस के सामने इन सड़कों पर रोजाना लगने वाले जाम से निपटने के लिये वन-वे ही एक विकल्प है।

लोकल पुलिस की लेंगे मदद

एसपी ट्रैफिक पूर्णेदु सिंह ने बताया कि हजरतगंज व चौक में जाम से निपटने के लिये वन-वे प्लान पर काम किया जा रहा है। इसके तहत कुल 17 सड़कों को चिन्हित किया गया है, जिन पर वन-वे किया जाना है। इनमें से कई सड़कें वे भी हैं, जिन्हें पहले भी वन-वे घोषित किया गया लेकिन, किन्हीं वजहों से योजना लागू नहीं हो सकी। लिहाजा, जाम के हालात बदस्तूर वैसे ही बने हुए हैं। उन्होंने बताया कि जल्द ही इन सड़कों पर ट्रैफिक वन-वे कर दिया जाएगा, इसके लिये लोकल पुलिस की मदद लेने का विचार है। एसपी सिंह ने बताया कि इसके लिये संबंधित थानों की पुलिस को एसएसपी ने दिशानिर्देश भी दिये हैं।

कई और इलाकों की रोड्स भी होंगी वन-वे

हजरतगंज व चौक के अलावा कई अन्य इलाकों में भी ट्रैफिक को सुचारू रखने के लिये उन इलाकों की रोड को प्रस्तावित वन-वे प्लान में शामिल किया गया है। कैसरबाग की तीन सड़कें, अमीनाबाद की एक सड़क, वजीरगंज, हुसैनगंज, बाजारखाला और अलीगंज की एक-एक सड़क शामिल हैं।

शहर में गाडि़यां

17 लाख दोपहिया वाहन

5 लाख प्राइवेट कार

1.50 लाख कॉमर्शियल भार व सवारी वाहन

17000 ई-रिक्शा

4545 ऑटो

2400 टेम्पो

वन-वे के लिये चिन्हित प्रमुख सड़कें

- नवल किशोर रोड, बैंक ऑफ इंडिया तिराहा की ओर से अल्का तिराहे पर आने वाला ट्रैफिक मेफेयर तिराहे की ओर नहीं जा सकेगा।

- पार्क रोड, सिविल चौराहा से डीएसओ चौराहे की ओर ट्रैफिक जा सकेगा लेकिन, डीएसओ से इस ओर आना प्रतिबंधित रहेगा।

- लालबहादुर शास्त्री तिराहे से कोई भी वाहन डीएसओ चौराहे की ओर नहीं जा सकेगा।

- जय हिंद सिनेमा की ओर से आने वाला ट्रैफिक कैपर रोड तिराहे से लालबाग चौराहे की ओर नहीं जा सकेगा। यह ट्रैफिक निशात हॉस्पिटल होकर गुजर सकेगा।

- सेंट फ्रांसिस व कैथड्रिल स्कूल छूटते समय दो घंटे के लिये अलका तिराहा से बैंक ऑफ इंडिया, डनलप तिराहा की ओर वन-वे होगा। इस रोड पर इस समयावधि में कोई वाहन सहारागंज की ओर से हजरतगंज की ओर नहीं जा सकेगा।

- चौक चौराहे से मेडिकल क्रॉस, कमला नेहरू क्रॉसिंग की ओर कोई वाहन प्रतिबंधित होगा। जबकि, मेडिकल क्रॉस से वाहन चौक चौराहे की ओर जा सकेंगे।

- डॉ। सूजा रोड तिराहा से बर्लिग्टन चौराहा की ओर कोई भी वाहन नहीं जा सकेगा।

- टिकैत राय तालाब से बुलाकी अड्डा तिराहे की ओर ट्रैफिक जा सकेगा लेकिन, वाहनों का आना प्रतिबंधित रहेगा।

वन-वे के लिये नई चिन्हित सड़कों पर लोकल पुलिस की मदद से इस व्यवस्था को लागू कराया जाएगा। पहले से घोषित जिन सड़कों पर यह व्यवस्था लागू नहीं हो सकी थी, वहां भी वन-वे व्यवस्था सख्ती से लागू कराई जाएगी।

- पूर्णेदु सिंह, एसपी ट्रैफिक

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.