जेल से रिहा होने के बाद चिदंबरम ने मंदी पर सरकार को घेरा

Updated Date: Thu, 05 Dec 2019 03:32 PM (IST)

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 106 दिनों की हिरासत के बाद तिहाड़ जेल से रिहा होने के बाद गुरुवार को राज्यसभा पहुंचे। यहां उन्होंने कहा कि हर जगह डर का माहौल है मीडिया भी डर से बच नहीं पाई है।


नई दिल्ली (पीटीआई)। कांग्रेस नेता पी चिदंबरम 106 दिनों बाद तिहाड़ जेल से रिहा होने के बाद गुरुवार को राज्यसभा पहुंचे। राज्यसभा के बाहर मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, 'मैंने कल रात आजादी की सांस ली, कश्मीर के लोगों के लिए मेरी पहली प्रार्थना है, जिन्हें बुनियादी आजादी से भी वंचित रखा गया है। चिदंबरम ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश से धूल की परतें साफ हो जाएंगी जो आपराधिक कानून की हमारी समझ पर बेस हैं। उन्होंने कहा, 'मैंने उन मामलों पर कभी टिप्पणी नहीं की है जो सब-जुडिस हैं और मैं उस सिद्धांत का पालन करना जारी रखूंगा।'सरकार मंदी को दूर करने में असमर्थ
इसके बाद, अर्थव्यवस्था पर मोदी सरकार को घेरते हुए चिदंबरम ने कहा, 'इस वित्तीय वर्ष के 7 महीने बाद भी, बीजेपी सरकार का मानना है कि अर्थव्यवस्था में समस्याएं चक्रीय हैं। सरकार गलत है। मंत्री के रूप में मेरा रिकॉर्ड, मेरा विवेक बिल्कुल स्पष्ट है।' उन्होंने कहा, 'अर्थव्यवस्था के बारे में सरकार को कोई जानकारी नहीं है। यह विमुद्रीकरण, और जीएसटी जैसी भयावह गलतियों का बचाव करने में जुटी है।' चिदंबरम ने कहा कि प्रधानमंत्री अर्थव्यवस्था पर बिलकुल चुप हैं और अपने मंत्रियों को झूठ बोलने के लिए बाहर छोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को मंदी से बाहर लाया जा सकता है, लेकिन यह सरकार ऐसा करने में असमर्थ है।P Chidambaram Granted Bail: चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से मिली जमानत, 105 दिन बाद जेल से आएंगे बाहरदेश को मंडी से बाहर निकाल सकती है कांग्रेसचिदंबरम ने आगे कहा, 'कांग्रेस और कुछ अन्य दल अर्थव्यवस्था को मंदी से बाहर निकालने के लिए बेहतर तरीके से सुसज्जित हैं लेकिन हमें बेहतर समय की प्रतीक्षा करनी होगी। वहीं, राहुल बजाज की टिप्पणी पर जोर देते हुए पूर्व गृह मंत्री ने कहा, 'हर जगह डर का माहौल है, मीडिया भी भय से ग्रसित है।'

Posted By: Mukul Kumar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.