पाक में धर्म परिवर्तन मामला हिंदू लड़कियों ने पाकिस्तानी अदालत में लगाई सुरक्षा की गुहार

2019-03-25T13:01:24Z

पाकिस्तान में एक शख्स को धर्म परिवर्तन कराकर दो हिंदू नाबालिग लड़कियों की जबरन शादी कराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। अब हिंदू लड़कियों ने पाकिस्तानी अदालत में सुरक्षा के लिए गुहार लगाई है।

लाहौर (पीटीआई)। पाकिस्तान में एक व्यक्ति ने दो हिंदू नाबालिग लड़कियों का अपहरण कर जबरन उनका धर्म इस्लाम में परिवर्तित कर दिया। इसके बाद उसे दोनों नाबालिग लड़कियों की जबरन शादी कराने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। इस घटना के बाद डर से अब दोनों नाबालिकों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक अदालत से सुरक्षा की मांग की है। 13 वर्षीय रवीना और 15 साल की रीना को कथित रूप से कुछ प्रभावशाली लोगों ने सिंध के घोटकी जिले में उनके घर से होली की शाम में अपहरण कर लिया था। अपहरण के तुरंत बाद, एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक मौलवी को दो लड़कियों की जबरन शादी कराते हुए दिखाया गया, जिसके बाद देश भर में आक्रोश फैल गया।
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

Thread @BBhuttoZardari #ForcedConversions. 2 sisters #Reena 14 #Raveena 16 were converted to Islam at Darga #BarchundiSharif in #Ghotki. As per Dargah girls wanted to convert to Islam since long influenced by it's teachings but 1st act after conversion was underage marriage pic.twitter.com/ztl3x13q6N

— M. Jibran Nasir (@MJibranNasir) March 22, 2019


हर महीने सिंध में होती हैं 25 जबरन शादियां
जियो टीवी के मुताबिक, दोनों हिंदू लड़कियों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के बहावलपुर में एक अदालत से सुरक्षा की गुहार लगाई है।  मीडिया रिपोर्ट में बताया गया कि पुलिस ने खानपुर के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिसपर लड़कियों की जबरन शादी में सहायता करने का संदेह है। हालांकि, इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि गिरफ्तार किया गया व्यक्ति मौलवी है, जिसने इस शादी को अंजाम दिया। इससे पहले, ऐसी खबरें थीं कि नाबालिग लड़कियों की शादी कराने वाले मौलवी को सिंध के खानपुर से गिरफ्तार किया गया है। इस घटना के बाद पाकिस्तान में हिंदू समुदाय ने इमरान खान से दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया है। बता दें कि पाकिस्तान में हिंदू सबसे बड़ा अल्पसंख्यक समुदाय है। आधिकारिक अनुमानों के अनुसार, पाकिस्तान में 75 लाख हिंदू रहते हैं। पाकिस्तान की अधिकांश हिंदू आबादी सिंध प्रांत में बसी हुई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिंध प्रांत के उमरकोट जिले में हर महीने लगभग 25 जबरन शादियां होती हैं।

पुलवामा टेरर अटैक के बाद इंडियन नेवी थी रेडी, अरब सागर में INS विक्रमादित्य था मोर्चे पर तैनात

यूएई में 2 भारतीयों और 1 पाकिस्तानी पर 900 जूस बॉक्स चुराने का आरोप

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.