सासारामपटना की दूरी होगी कम

2018-08-13T11:26:16Z

-रेलमंत्री ने कांग्रेस-राजद पर साधा निशाना, 2009-14 को बताया बैलगाड़ी-लालटेन युग

-आरा में रेल मंत्री बोले, डालमिया नगर में रेलवे की 600 करोड़ की परियोजना पर चल रहा है काम

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

न्क्त्रन्/क्कन्ञ्जहृन्: रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को आरा रेलवे स्टेशन पर शिलान्यास समारोह में पहुंचे। जहां लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारत के हर नागरिक को विकास का अधिकार है। अब देश के हर क्षेत्रों में विकास कार्य तीव्र गति से जारी है। रेलमंत्री ने कहा कि देश में विकास के लिए आधारभूत संरचनाओं एवं सुविधाओं पर तेजी से काम चल रहा है। कांग्रेस एवं राजद पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र में 2009-14 तक बैलगाड़ी एवं लालटेन की सरकार थी। उन्होंने कहा कि आज वह दौर समाप्त हो चुका है और विकास की गाड़ी तेजी से चल रही है। उन्होंने कहा कि बिहार में रेल परियोजनाओं पर हाल के दिनो में सबसे ज्यादा खर्च हुआ है। शाहाबाद जनपद के डालमियानगर में रेलवे की 600 करोड़ की परियोजना पर काम चल रहा है। आरा में जिन योजनाओं का शिलान्यास हुआ है, इससे आरा, सासाराम एवं पटना की दूरी कम हो जाएगी। लोग कम समय में अपनी यात्रा कर सकेंगे। उन्होंने स्थानीय सांसद आरके सिंह की सराहना करते हुए कहा कि आज इनकी बदौलत एवं प्रयासों से इन सभी कार्यों का शुभारंभ हुआ है।

पथ का टेंडर दिसंबर तक पूरा

रेल मंत्री ने कहा कि ऊर्जा राज्य मंत्री आपकी समस्या को अपनी समस्या समझ निष्पादन करते है। यह कार्यों की अभी शुरूआत है। आने वाले दिनों में और विकास होगा। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार के संयुक्त प्रयास से आरा मोहनिया पथ का टेंडर दिसंबर तक हो जाएगा। साथ ही इस पथ के निर्माण का कार्य भी शुरू हो जाएगा। बिहार एवं उत्तर प्रदेश समेत झारखंड को जोड़ने वाली यह महत्वपूर्ण सड़क सरकार की प्राथमिकता सूची में शामिल है। रेलवे में बहाली में शुल्क वृद्धि समेत अन्य सवालों को लेकर आरा के युवाओं ने रेलवे स्टेशन पर हंगामा किया था। आज उसी का परिणाम है कि रेलेवे में सवा लाख युवकों के लिए नौकरी का पिटारा खुला है।

भोजपुर के 800 गांवों में पहुंचाई विभिन्न योजनाएं

ऊर्जा राज्य मंत्री सह स्थानीय सांसद आरके सिंह ने कहा कि चार वर्षों के कार्यकाल में संसदीय क्षेत्र के 1200 गांवों में से 800 गावों में योजनाओं को पहुंचाया है, जो अबतक का रिकार्ड है। उन्होंने रेलमंत्री से आरा सासाराम रेलखंड पर दो उपरी पैदल पुल तथा नगरी कसाप समेत कई अन्य स्थानो पर स्टेशन निर्माण कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि रेलमंत्री ने चार वर्षों में देश को जो दिया, वह सत्तर वर्षों में भी कोई रेलमंत्री नहीं कर सका। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे, सांसद छेदी पासवान, डीएम संजीव कुमार, एसपी अवकाश कुमार, उप विकास आयुक्त शशांक शुभंकर मौजूद थे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.