उत्तर प्रदेश में दूसरे प्रदेशों से आने वाले होंगे क्वारंटाइन, मुसाफिरों से बात करने खुद सड़क पर उतरे सीएम योगी

Updated Date: Mon, 30 Mar 2020 01:24 PM (IST)

उत्तर प्रदेश सरकार ने एलान किया है कि अन्य राजयों से आने वाले लोगों को प्रदेश में प्रवेश करने के बाद क्वारंटीन होना पड़ेगा। साथ ही कामगार और मजदूर से एक महीने का किराया नहीं लेंगे मकान मालिक और बाहर से आने वालों के लिए भोजन शुद्ध पानी और दवा की बेहतर व्यवस्था भी की जा रही है।

लखनऊ,(ब्यूरो)। उत्तर प्रदेश में कहा गया है कि बिना किसी कटौती के अपने कर्मचारियों को प्राइवेट उद्यम व संस्थान वेतन देंगे। साथ ही दूसरे प्रदेशों से आ रहे लोगों को जिला स्तर पर क्वारंटाइन में रखा जाएगा। 14 दिनों की मियाद पूरी होने पर वे लोग अपने घर जा सकेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह आदेश देते हुए सभी आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग के भी आदेश दिये हैं। उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि सूबे में जो भी आ गए हैं, उन सबकी जिम्मेदारी हमारी है। सीएम ने प्राइवेट उद्यम व संस्थान को भी निर्देश दिया है कि वे अपने कर्मचारियों को बिना किसी कटौती पूरा वेतन दें। वहीं, सभी मकान मालिकों को निर्देश दिया है कि कामगारों व मजदूरों से एक महीने का किराया न लिया जाये। जो भी मकानमालिक किराये के लिये दबाव बनाएगा उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

14 दिन तक होगी निगरानी

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि प्रदेश के बाहर से आए लोगों को जिला स्तर पर हर हालत में स्क्रीनिंग कर उन्हें क्वारंटाइन में रखा जाए। इसके साथ ही उन्होंने यूपी के नागरिकों से अपील की है कि वे जिस भी प्रदेश में हैं, वहीं रहें और लॉकडाउन का पालन करें। उन्होंने कहा कि सीएम ने यह भी निर्देश दिया है कि पुलिस लाइन में अतिरिक्त भोजन पैकेट बनवाए जाएं, जिससे कही भी लोगों को भोजन की जरूरत हो तो वहां बंटवाया जा सके।

नोडल अधिकारियों के साथ सीएम की बैठक

अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि सीएम ने रविवार को विभिन्न प्रदेशों के लिये नियुक्त किये गए नोडल अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने अन्य राज्यों में रह रहे यूपी के लोगों की जानकारी ली। साथ ही अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिस भी राज्य से यूपी के नागरिकों के फोन आ रहे हैं, वहीं पर उनकी समस्या का समाधान किया जाये। उन्होंने कहा कि कुछ अन्य प्रदेशों के नोडल अफसरों की आज नियुक्ति हुई है। इसमें प्रभात कुमार सारंगी को उड़ीसा, एम देवराज को तमिलनाडु, एलवी एंटनी देवकुमार को केरल और पूर्वोत्तर राज्यों के लिये संजय गोयल और पीसी मीणा को नियुक्त किया गया है।

कम्युनिटी स्प्रेड नहीं

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में जितने भी मामले सामने आए हैं उन्हें ट्रेस बैक किया जा सकता है। कम्युनिटी स्प्रेड का एक भी मामला अब तक सामने नहीं आया है।

- कोरोना वायरस से संक्रमित 68 मामले प्रदेश में सामने आये हैं. जिनमें 14 लोग पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। 54 मरीजों का प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

- उन्होंने कहा कि नोएडा और गाजियाबाद पर लगातार नजर रखी जा रही है।

- प्रदेश में आठ पैथालॉजी लैब चल रही हैं. जिनमें 2284 सैंपल परीक्षण के लिये भेजे गए। इनमें से 2171 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 45 सैंपल की जांच चल रही है।

- आइसोलेशन और क्वारंटाइन बेड्स की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है। इसके साथ ही 200 वेंटिलेटर जल्द खरीदे जाएंगे।

सड़क पर उतरे सीएम योगी

कोरोना संक्रमण से प्रदेश वासियों को बचााने के लिये किये गए सरकारी इंतजामों को देखने रविवार को खुद सीएम योगी आदित्यनाथ सड़क पर उतरे। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे स्थित मोहान रोड टोल प्लाजा के पास सीएम ने दिल्ली समेत अन्य राज्यों से आने वाले मजदूरों व अन्य लोगों से बातचीत की। इसके बाद सीएम आलमबाग चौराहे पर बाहर से आ रहे मजदूरों और लोगों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि यूपी में जो भी लोग आ गए हैं या फिर पहले से रह रहे हैं, उनकी पूरी जिम्मेदारी हमारी है। उन्हें भोजन, शुद्ध पानी और दवा उपलब्ध करायी जा रही है।

डीएम लगवाएं आवश्यक वस्तु की रेट लिस्ट

मुनाफाखोरी रोकने के लिए मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि जिलाधिकारी आवश्यक वस्तुओं की सूची बनाएं। उनकी रेट लिस्ट दुकानों पर चस्पा कराएं। यदि उससे अधिक कीमत में कोई सामान बेचता है या जमाखोरी करता है मुकदमा दर्ज कर सख्त कार्रवाई करें।

फैक्ट फाइल

- 4.93 मीट्रिक टन गेहूं एफसीआई के जरिए आवंटित

- 19941 मोबाइल वैन को फल व सब्जियों की डोर स्टेप डिलीवरी पर लगाया गया

- 21376 हाथ ठेला भी होम डिलीवरी पर लगाए गए

- 850 कम्युनिटी किचन प्रदेश भर में खोले गए

lucknow@inext.co.in

Posted By: Molly Seth
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.