प्रयागराज से दिल्ली तक जलमार्ग

2019-02-09T06:01:08Z

प्रयागराज आए केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री का ऐलान, एक साल के भीतर योजना को पहनाएंगे अमलीजामा

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: नई दिल्ली से प्रयागराज तक जलमार्ग से आने के लिए तैयारियां जोरों पर शुरू कर दी गई हैं। सरकार ने विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार कर ली है। एक साल के भीतर इस योजना को धरातल पर उतारने का प्रयास किया जाएगा। यह जानकारी शुक्रवार को केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गंगा व यमुना में चार रीवर पोर्ट व फरक्का से पटना तक नदी सूचना प्रणाली का उद्घाटन करने के बाद आयोजित पत्रकार वार्ता में दी। उन्होंने कहा कि जलमार्ग से जुड़ने पर यहां पर रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे और प्रयागराज विकास के पथ पर और आगे बढ़ता जाएगा।

बीस दिनों में एयरबोट होगा शान

फरवरी के अंतिम सप्ताह या मार्च के पहले सप्ताह तक प्रयागराज की शान में एयरबोट का नाम भी जुड़ जाएगा।

वाराणसी से प्रयाग तक एक मीटर गहराई गंगा में सुनिश्चित करने का कार्य किया जा रहा है।

विशेष प्रौद्योगिकी के जरिए क्रूज जहाज का परिचालन आसान होगा।

इसमें इंजन टोयोटा कंपनी का होगा और पंखा हवाई जहाज का होगा।

एयरबोट में अधिकतम 14 लोग बैठ सकेंगे और उसकी स्पीड 80 किमी प्रति घंटा होगी।

खास बातें

प्रयागराज को ए से जी तक के सात सीवरेज श्रेणी में और एक उपनगरीय टाउनशिप में बांटा गया है।

नैनी, फाफामऊ व झूंसी क्षेत्रके लिए 72 एमएलडी एसटीपी सहित 16.41 किमी सीवरेज प्रणाली का अवरोधन व डायवर्जन कार्य का हाल ही में कन्शेसन एग्रीमेंट हस्ताक्षर हुए हैं।

88.03 करोड़ रुपए की लागत से मोक्षधाम व घाट के अन्तर्गत छह घाट और तीन मोक्षधाम प्रयागराज में मंजूर किए गए हैं।

67 करोड़ रूपए की लागत से गंगा कार्यबल तैनात किया गया है प्रयागराज, कानपुर व वाराणसी में

एक लाख की राशि किया दान

कुंभ एरिया पहुंचे श्री गड़करी ने सेक्टर-एक में जनमानस की जानकारी व जागरूकता के लिए बनाए गए नमामि गंगे पंडाल की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उन्होंने क्लीन गंगा फंड में एक लाख रुपए की धनराशि का दान की। प्रदर्शनी के एक दर्जन से अधिक स्टॉल पर जाकर उन्होंने गंगा संरक्षण से संबंधित कार्यक्रमों की जानकारी हासिल की। साथ ही गंगा संरक्षण के कार्यक्रम से जुड़े गंगा प्रहरी व गंगा विचार मंच के सदस्यों का मनोबल भी बढ़ाया।

संगम में लगाई डुबकी

कुंभ एरिया में भ्रमण व लोकार्पण समारोह से पहले केन्द्रीय मंत्री श्री गडकरी ने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के साथ संगम में पुण्य की डुबकी लगाई। साथ ही दूध से गंगा का पूजन व अभिषेक किया। फरक्का से पटना तक रीवर ट्रैफिक सिस्टम का शुभारंभ किया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.