कुंभ 2019 बसों में पहले लगेगी झाड़ू फिर बैठेंगे श्रद्धालु

2019-01-10T12:19:53Z

45

हजार झाड़ू रोडवेज सेवा प्रबधंक गई पहल पर मिला दान

217

बसों में रखवाई गई गई झाड़ू, सफाई करेंगे संकल्प ले चुके चालक व परिचालक

500

कुंभ स्पेशल बसों में भी रखवाई जाएगी दान में मिली झाड़ू

-सेवा प्रबंधक रोडवेज की पहल लाई रंग, बसों में रखवाने के बाद स्कूल व कॉलेज में बांटी जाएगी बची हुई झाड़ू

PRAYAGRAJ : किसी ने सच ही कहा है कि नेक कार्य करने के लिए पैसे की नहीं, सोच की जरूरत होती है। रोडवेज बसों की सफाई को लेकर सेवा प्रबंधन द्वारा की गई अनोखी पहल का पॉजीटिव रिजल्ट सामने आया है। झाड़ू दान जन जागरण स्वच्छ भारत अभियान के तहत विभाग को 45 हजार झाड़ू दान में मिली है। दान में मिली इस झाड़ू को विभाग ने रोडवेज की 217 बसों में रखवा दी है। कुंभ मेला को लेकर शुरू किए गए इस प्रयास का असर यह रहा कि बस चालकों व परिचालकों ने स्वच्छ भारत के तहत बसों में स्वयं झाड़ू लगाने का संकल्प लिया। विभाग का दावा है कि इन बसों में पहले झाड़ू लगेगी, इसके बाद उसमें श्रद्धालु बैठाए जाएंगे। बची हुई झाड़ू स्कूलों व कॉलेजों में दान स्वरूप वितरित की जाएगी।

एफबी ग्रुप से मिला रिस्पांस

कुंभ मेला में यात्रियों को स्वच्छ बसों से सफर कराने के लिए सेवा प्रबंधक रोडवेज ने झाड़ू दान जन जागरण स्वच्छ भारत नाम फेसबुक ग्रुप तैयार किया। कुछ ही दिन में इस गुप से जुड़े लोगों ने झाड़ू दान की हामी भरी। इसके बाद विभाग में दान स्वरूप झाड़ू आने का सिलसिला शुरू हो गया। विभाग को दान में 45 हजार झाड़ू मिली तो इसके प्रयोग को लेकर खाका तैयार किया गया। जन सहयोग व स्वेच्छा से बस चालकों व परिचालकों ने स्वयं बसों में झाड़ू लगाने का संकल्प लिया। विभाग के अन्य कर्मचारी भी इस काम के लिए अवेयर किए जा रहे हैं। रोडवेज के वे चालक व परिचालक पुरस्कृत किए जाएंगे, जो मन लगाकर कुंभ तक श्रमदान के तहत काम करेंगे।

एक पहल को लोगों का काफी सपोर्ट मिल रहा है। कुंभ के बाद इसे स्वच्छ भारत अभियान के तहत आगे बढ़ाया जाएगा। इस काम में विभाग के चालक व परिचालकों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया है। मेला के लिए आने वाली 500 बसों में भी झाड़ू रखवाई जाएगी। जिस बस के चालक व परिचालक संकल्प नहीं ले रहे, उन बसों में बस अड्डे पर तैनात स्वीपर झाड़ू लगाने का काम करेंगे।

-एसपी सिंह, सेवा प्रबंधक रोडवेज

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.