नहीं बढ़ेंगे जमीनों के दाम पूरा होगा आशियाने का ख्वाब

2019-07-12T06:00:01Z

-अगस्त में जारी होगा सर्किल रेट, चल रहा सर्वे

-मांगी गई आपत्तियां, कछार में गिरेंगे जमीनों के दाम

PRAYAGRAJ: आपने जमीन या घर खरीदने का सपना देखा है तो डोंट वरी। आप इसे आसानी से पूरा कर सकते हैं। प्रशासन इस साल भी जमीनों का सर्किल रेट नहीं बढ़ाने जा रहा है। कछार में पिछले साल की तरह जमीनों के दाम घटाए जा सकते हैं। शहर के जिन एरियाज में प्लाटिंग की संभावना अधिक है वहां भी नॉमिनल रेट ही बढ़ाए जाने पर विचार चल रहा है।

इस साल भी महंगाई से दूरी

अगस्त के लास्ट तक प्रशासन सर्किल रेट जारी कर सकता है। इसके लिए 15 अगस्त तक आपत्तियां मांगी गई हैं। इसके बाद अनंतिम सूची जारी की जाएगी। बता दें कि लास्ट ईयर सर्किल रेट जारी ही नहीं किया गया था। कछार सहित शहर के तमाम इलाकों में जमीनों के दाम दस फीसदी तक कम कर दिए गए थे। कारण था कि जमीनों की रजिस्ट्री से होने वाली आय को बढ़ाया जा सके।

पहले से अधिक बस चुका है कछार

दस फीसदी तक कछार एरिया में रेट कम होने के कारण लोगों ने यहां जमीन खरीदकर मकान बनवा लिए। इस साल भी दाम कम किए जाने की संभावना के चलते बहुतों का घर का सपना पूरा हो सकता है। यह बात अलग है कि हाईकोर्ट ने पांच सौ मीटर कछार एरिया में मकान बनवाने पर पाबंदी लगा रखी है।

यहां पांच फीसदी तक बढ़ सकते हैं दाम

सिविल लाइंस, झलवा, करछना, फाफामऊ, नैनी, झूंसी आदि एरियाज में जहां प्लाटिंग की संभावना है वहां सर्किल रेट 5 से 7 फीसदी तक बढ़ सकता है। हालांकि अगर ज्यादा आपत्तियां आई तो तो प्रशासन यह विचार भी बदल सकता है।

लगातार गिर रही है रजिस्ट्री की संख्या

केंद्र सरकार के नये नियम के चलते रजिस्ट्री कराने वालों की संख्या घट रही है। लोगों को इस बात का डर सताता है कि यदि उन्होंने जमीन की खरीद-फरोख्त की तो वह इनकम टैक्स के रडार पर आ जाएंगे।

अभी सर्किल रेट को लेकर कोई फैसला नहीं किया गया है। अभी इस पर विचार किया जा रहा है। कहां का सर्किल रेट बढ़ेगा या घटेगा यह आपत्तियां आने के बाद डिसाइड किया जाएगा। जल्द ही नए सर्किल रेट जारी किए जाने की तैयारी चल रही है।

-मार्तड प्रताप सिंह, एडीएम फाइनेंस प्रयागराज


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.