Pulwama Terror Attack शहीदों के परिवार की मदद को योगी सरकार ने बढ़ाए हाथ कुछ अन्य ऐलान जल्द

2019-02-16T09:13:40Z

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए सूबे के 12 सीआरपीएफ के जवानों के परिजनों की मदद के लिए राज्य सरकार ने अपने हाथ बढ़ाए हैं।

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना की कड़े शब्दों में निंदा करने के साथ शहीद हुए जवानों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये की अनुग्रह राशि, प्रत्येक जवान के करीबी परिजन को सरकारी नौकरी और उनके गांव के संपर्क मार्ग को शहीद के नाम पर किए जाने का ऐलान किया। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा राज्य सरकारों को शहीदों के परिवारों को अतिरिक्त मदद दिए जाने की अपील के बाद राज्य सरकार जल्द ही कुछ अन्य घोषणाएं करने की तैयारी में है।

मंत्रियों को भेजा शहीदों के घर

वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तमाम मंत्रियों को शहीदों के पैतृक आवास जाकर राज्य सरकार की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित करने और अनुग्रह राशि का चेक सौंपने के निर्देश दिए जिसके बाद तमाम मंत्री अपने-अपने प्रभार वाले जिलों में जाकर शहीदों के परिजनों से मिले और शोक व्यक्त किया। वहीं मुख्यमंत्री खुद गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पहुंचे जहां शहीदों के शव आने थे। मुख्यमंत्री ने शहीदों के पैतृक गांव के संपर्क मार्ग का नामकरण उनके नाम पर करने का ऐलान भी किया। साथ ही शहीद जवानों का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ करने के निर्देश देने के साथ यह सुनिश्चित करने को कहा कि इस मौके पर राज्य सरकार के एक मंत्री, डीएम व एसएसपी/एसपी सरकार के प्रतिनिधि के रूप में मौजूद रहे।
पहले जारी हो चुका है शासनादेश
योगी सरकार पहले ही शहीद जवानों के आश्रितों को नौकरी दिये जाने का शासनादेश जारी कर चुकी है। इसका शासनादेश सैनिक कल्याण विभाग ने जारी किया था। जिसके तहत वर्ष 2017-18 के माह अप्रैल के प्रथम दिवस अथवा उसके बाद के शहीद सैनिकों/अद्र्धसैनिक बलों के जवानों के आश्रितों को शासकीय सेवा में नियोजित करने की व्यवस्था है। हालांकि यह नियम उप्र लोक सेवा आयोग के तहत आने वाली भर्तियों में लागू नहीं होगा।
आईपीएस एसोसिएशन ने बढ़ाये मदद को हाथ
यूपी आईपीएस एसोसिएशन ने भी शोक संदेश जारी कर उन शहीदों को नमन किया जिन्होंने राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्य पालन के दौरान गुरुवार को पुलवामा में अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। एसोसिएशन के सचिव नीलाब्जा चौधरी ने बताया कि यूपी आईपीएस एसोसिएशन के सभी सदस्यों ने ऐसे बलिदानियों के शोक संतप्त परिवारों के कल्याणार्थ अपना एक दिन का वेतन देने के प्रस्ताव को पारित किया है। इससे जमा की गयी कुल धनराशि को चेक के रूप में राजधानी स्थित सीआरपीएफ फ्रंटियर मुख्यालय को सौंपा जाएगा ताकि इसे नई दिल्ली स्थित सीआरपीएफ मुख्यालय भेजा जा सके। वहीं बुलंदशहर के डीएम अनुज झा ने भी सीआरपीएफ के शहीदों के परिजनों की आर्थिक सहायता के लिए सभी अधिकारियों कर्मचारियों से एक दिन का वेतन और स्वयंसेवी संस्थाओं से आर्थिक मदद देने की अपील की है।

अखिेलश पहुंचे कन्नौज

दूसरी ओर सपा प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कन्नौज जाकर शहीद जवान प्रदीप सिंह के परिजनों को सांत्वना दी। शहीद प्रदीप यादव के गांव सुखसेनपुर पहुंचे अखिलेश ने इस घटना पर सरकार से जवाब भी मांगा। कहा कि यह देश के लिए दुखद पल है। पूरा देश रो रहा है। चूक कहां हुई, इसका कारण क्या है, इंटेलीजेंस ने कार्रवाई क्यों नहीं की, इन सवालों का जवाब सरकार को देना होगा। सर्जिकल स्ट्राइक का आप जश्न मना सकते हैं तो आपको जवाब देना होगा कि जवानों की जान कैसे चली गई।
ये मिलेगी मदद
- 25 लाख रुपये की अनुग्रह राशि प्रत्येक शहीद के परिजन को
- 01 परिजन को सरकारी नौकरी देगी राज्य सरकार
- शहीद के गांव का संपर्क मार्ग पर उसके नाम बनेगा गौरव पथ

शहीदों को मंत्री करेंगे नमन

शहीद                जिला          मंत्रियों को भेजा
अवधेश कुमार यादव      चंदौली          जय प्रताप निषाद
पंकज कुमार त्रिपाठी       महाराजगंज      रमापति शास्त्री
अमित कुमार              शामली          सुरेश राणा
प्रदीप कुमार               शामली          सुरेश राणा
विजय कुमार मौर्या        देवरिया          अनुपमा जायसवाल
राम वकील               मैनपुरी           सत्यदेव पचौरी
महेश कुमार              प्रयागराज        आशुतोष टंडन
रमेश यादव              वाराणसी          नीलकंठ तिवारी
कौशल कुमार रावत      आगरा            एसपी सिंह बघेल
प्रदीप सिंह               कन्नौज          संदीप सिंह
श्याम बाबू               कानपुर देहात    मुकुट बिहारी वर्मा
अजीत कुमार आजाद     उन्नाव          बृजेश पाठक

Pulwama Terror Attack: शहीदों में कश्मीर से कन्याकुमारी तक के जवान शामिल, दिल्ली पहुंचे जवानों के पार्थिव शरीर

Pulwama terror attack : शहीद के परिवारवालों को एक करोड़ देगी मध्य प्रदेश सरकार, झारखंड ने भी किया आर्थिक मदद का ऐलान


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.