इस बार भक्तों के बिना आयोजित हो सकती है पुरी रथ यात्रा

2020-05-30T20:48:43Z

अगर ओडिशा सरकार यात्रा की अनुमति देती है तो भगवान जगन्नाथ और उनके भाई-बहनों की वार्षिक रथ यात्रा की जा सकती है। रथ यात्रा का आयोजन न्यूनतम सेवादारों और भक्तों के साथ किया जा सकता है।

भुवनेश्वर (आईएएनएस) पुरी गजपति दिबिया सिंह देब ने कहा ने कहा कि भगवान जगन्नाथ और उनके भाई-बहनों की वार्षिक रथ यात्रा की जा सकती है, बशर्ते कि ओडिशा सरकार पुरी में भक्तों का गैर-आगमन सुनिश्चित करे। श्री जगन्नाथ मंदिर प्रबंध समिति की एक बैठक के बाद पुरी गजपति ने कहा कि यदि ओडिशा सरकार ने इस 9 दिनों की यात्रा की अनुमति दी तो रथ यात्रा का आयोजन न्यूनतम सेवादारों और भक्तों के साथ किया जा सकता है। रथ यात्रा और बहुदा यात्रा के हिस्से के रूप में, तीन रथों को सेवादारों, अधिकारियों और पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में बददांडा (भव्य सड़क) पर खींचा जाएगा।

मंदिर परिसर के अंदर की जा सकती है स्नाना यात्रा

गजपति ने कहा कि 5 जून को होने वाली स्नाना यात्रा मंदिर परिसर के अंदर की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कोविड -19 महामारी के मद्देनजर निलाद्रिबिज तक मंदिर बंद रहेगा। सूचना और जनसंपर्क विभाग स्नाना यात्रा और रथ यात्रा अनुष्ठानों के लाइव टेलीकास्ट की व्यवस्था करेगा। पुरी गजपति ने कहा, 'मैं भक्तों से अनुरोध करता हूं कि वे घर पर सुरक्षित रहें और टेलीविजन पर टेलीकास्ट देखें।'

Posted By: Mukul Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.