दक्षिण और उत्तर कोरिया की सीमा पर पहुंचे राजनाथ सिंह, किया 'ऐतिहासिक स्थल' का दौरा

Updated Date: Sat, 07 Sep 2019 01:53 PM (IST)

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इन दिनों साउथ कोरिया के दौरे पर पहुंचे हैं। यहां शनिवार को उन्होंने उस ऐतिहासिक स्थल की यात्रा की जहां दोनों कोरियाई देशों के नेताओं ने अप्रैल में सीमा पर शांति के लिए एक पेड़ लगाया था। सिंह ने ट्विटर के जरिये इस बात की जानकारी दी।

सिओल (एएनआई)। भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इन दिनों साउथ कोरिया की यात्रा पर पहुंचे हैं। यहां उन्होंने शनिवार को उस ऐतिहासिक स्थल का दौरा किया, जहां उत्तर कोरिया और साउथ कोरिया के नेताओं ने अप्रैल में अपनी सीमा पर शांति के लिए एक पेड़ लगाया था। सिंह ने ट्वीटर पर लिखा, '27 अप्रैल, 2018 को पनमुनजोम में अंतर-कोरियाई शिखर सम्मेलन के दौरान दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति श्री मून जे-इन और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने एक पेड़ लगाया था, उसी ऐतिहासिक स्थल का दौरा किया।'

Visited the historic site where South Korean President Mr. Moon Jae-in and the North Korean leader Kim Jong Un attended tree planting ceremony during the inter-Korean summit at Panmunjom on April 27, 2018. pic.twitter.com/BilLVhZnov

— Rajnath Singh (@rajnathsingh) September 7, 2019


रक्षा क्षेत्र में सहयोह के लिए किया आग्रह

बता दें कि एक दिन पहले राजनाथ सिंह ने संयुक्त सुरक्षा क्षेत्र (JSA) का दौरा किया था, जो उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच Demilitarized Zone (DMZ) में स्थित एक छोटा कैंप है। अपनी इस यात्रा के दौरान सिंह ने अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच परमाणु को लेकर हुई बातचीत को सकारत्मक बताया और कहा कि भारत ने हमेशा प्रायद्वीप पर शांति और स्थिरता लाने के सभी प्रयासों का समर्थन किया है। सिंह ने ट्वीट किया, 'हमने भारत में हमेशा कोरियाई प्रायद्वीप पर शांति और स्थिरता लाने की बात कही है और संवाद व कूटनीति के जरिये सभी मसलों को हल करने का समर्थन किया है। अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच इस संबंध में हुई बातचीत एक सकारात्मक संकेत देते हैं।' बता दें कि अपनी इस यात्रा के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को भारतीय और दक्षिण कोरियाई कंपनियों से रक्षा क्षेत्र में एक-दूसरे का सहयोग करने का आग्रह भी किया।

 

Posted By: Mukul Kumar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.