कलाई पर सजा बहनों का प्यार

2018-08-28T06:02:06Z

परंपरागत तरीके और उल्लास के माहौल में मनाया गया रक्षाबंधन का त्योहार

ALLAHABAD: भाई-बहन के अटूट संबंध का पर्व रक्षाबंधन रविवार को परंपरागत तरीके और उल्लास के माहौल में मनाया गया। शहर के एक छोर से लेकर दूसरे छोर तक भाई-बहन के पर्व को धूमधाम से मनाने के लिए घरों में रौनक दिखाई दी। बहनों ने भाइयों की आरती उतारी और रोरी व अक्षत का तिलक लगाते हुए राखी बांधकर उनकी लम्बी उम्र की कामना की। वहीं भाइयों ने भी बहनों की रक्षा व सुरक्षा का संकल्प लिया। यह सिलसिला त्योहार की शुभ मुहूर्त की बेला में शाम सवा चार बजे तक चलता रहा।

सुबह से छाई रही रौनक, खूब दिया गिफ्ट

इस बार रक्षाबंधन के त्योहार पर भद्रा का साया नहीं पड़ा था। यही वजह रही कि घरों में सुबह से ही उल्लास का माहौल छाया रहा। पूजा की थाली में भाई के लिए रंग-बिरंगी राखियों के साथ रोरी व अक्षत रखा गया। बहनें अपने भाइयों के घर पहुंची तो भाइयों ने भी तरह-तरह के गिफ्ट देकर उनका स्वागत किया।

मार्केट रहा गुलजार

त्योहार का उल्लास इस कदर छाया कि सुबह सात बजते-बजते शहर की प्रमुख स्वीट्स हाउस से लेकर गली-मोहल्लों की दुकानों पर मिठाई खरीदने के लिए लंबी-लंबी कतार लग गई। स्वीट्स हाउस पर दिनभर मिठाई और ड्राइ फ्रूट खरीदने को होड़ लगी रही तो राखी की दुकानों पर भी अंतिम समय तक बहनें भाइयों के लिए राखी खरीदती हुई दिखाई दीं।

कैबिनेट मंत्री ने बंधवाई राखियां-नंदी की फोटो लगेगी

प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने रक्षाबंधन का त्योहार अनूठे अंदाज में मनाया। नंदी ने पुलिस लाइन जाकर महिला सिपाहियों के हाथों से राखियां बंधवाई। महिला सिपाहियों ने उनकी आरती उतारी और अक्षत लगाया। इसके बाद राखी बांधकर उनका आशीर्वाद लिया। नंदी ने सिपाहियों के उज्जवल भविष्य की कामना की और तोहफा भी दिया। इस मौके पर नंदी ने कहा कि महिला पुलिसकर्मी शक्ति का रूप हैं। हम सभी को इनकी शक्ति का सम्मान करके समाज को एकजुट करना चाहिए।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.