आईआईटी के जरिए मिलेगी कॅरियर को सही राह

2019-11-13T05:46:17Z

- 24 नवंबर और 29 नवंबर को ऑर्गनाइज किया जाएगा आईआईटी

- रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस हो चुकी है स्टार्ट, दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ऑफिस के साथ ही ऑनलाइन करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन

GORAKHPUR: इंटरमीडिएट पास कर लिया, अब बच्चे को क्या कराऊं?, मेरा दोस्त फ्लां सब्जेक्ट लेने जा रहा हैं, मैं भी उसी को लेकर पढ़ाई करूंगा। कौन सी स्ट्रीम फ्यूचर के लिए बेस्ट हो? ऐसे ही न जाने कितने सवाल होते हैं, जो कॅरियर चुनने की राह में रोड़ा बनते हैं। सही मालूमात न होने की वजह से स्टूडेंट्स के सामने प्रॉपर करियर चुनने का चैलेंज होता है, लेकिन ज्यादातर स्टूडेंट्स अपनी एबिलिटीज, इंटरेस्ट, एप्टिट्यूड और इंटेलिजेंस के मुताबिक, डिसीजन न लेकर अपने पेरेंट्स या फिर अपने फ्रेंड्स के कहने पर डिसीजन लेते हैं, जिससे कई बार उन्हें बाद में पछताना भी पड़ सकता है। दरअसल, स्टूडेंट्स के पास अपनी एबिलिटीज और एप्टिट्यूड के बारे में जानने का कोई ठोस जरिया नहीं होता। कई स्टूडेंट्स अपने इंटरेस्ट के ऑपोजिट करियर चुन लेते हैं, जिसका खामियाजा उन्हें बाद में उठाना पड़ता है। मगर दैनिक जागरण आई नेक्स्ट स्टूडेंट्स की इस अनसुलझी उलझन का सॉल्युशन आईआईटी लेकर आया है, जिससे उनके कॅरियर को सही दिशा मिलेगी और वह कामयाबी की सीढि़यों पर चढ़ते चले जाएंगे।

अपनी इंटेलिजेंस के बारे में जानना है जरूरी

अगर समय रहते स्टूडेंट्स को अपनी इंटेलिजेंस के बारे में पता चल जाए, तो सक्सेस के चांसेज बढ़ जाते हैं। स्टूडेंट्स करियर काउंसिलिंग, साइकोमेट्रिक टेस्ट्स आदि के जरिए अपनी इंटेलिजेंस का पता लगा सकते हैं। कई संस्थाएं इस तरह के टेस्ट के लिए महंगी फीस भी लेती हैं, लेकिन स्टूडेंट्स की हेल्प के लिए आपको फेवरेट न्यूज पेपर दैनिक जागरण आई नेक्स्ट इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट 6 बार ऑर्गनाइज कर चुका है, जिससे स्टूडेंट्स को उनके कॅरियर की राह मिल चुकी है। अगर आप अब भी परेशान हैं, तो इस इवेंट का हिस्सा बनकर आप भी अपना कॅरियर संवार सकते हैं, जिससे आप कामयाबी की नई ऊंचाइयों को छूने लगेंगे।

इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट से कैसे मिलेगी हेल्प

जूनियर लेवल यानी क्लास 5 में इंटेलिजेंस टेस्ट में अपियर होने से स्टूडेंट्स आगे जाकर सही सब्जेक्ट्स पर फोकस कर सकते हैं। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट (आईआईटी) में किसी भी बोर्ड के क्लास 5 से लेकर क्लास 12 तक के स्टूडेंट्स पार्टिसिपेट कर सकते हैं। इस टेस्ट के पिछले सीजन्स में लाखों स्टूडेंट्स अपने करियर को सही दिशा दे चुके हैं और अपने डाउट्स क्लियर करने के लिए करियर काउंसलर्स की मदद भी ले चुके हैं। अगर आप पहले अपीयर हो चुके हों, तब भी इंप्रूवमेंट जानने के लिए आप इस टेस्ट में दोबारा अपीयर हो सकते हैं।

मल्टीपल इंटेलिजेंस थ्योरी पर बेस्ड है आईआईटी

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट एक मल्टीपल इंटेलिजेंस थ्योरी पर बेस्ड है। यह थ्योरी हॉवर्ड ग्रेजुएट स्कूल ऑफ एजुकेशन के एक प्रोफेसर हॉवर्ड गार्डनर ने बच्चों की इंटेलिजेंस को मापने के लिए डेवलप की थी। उनके मुताबिक सभी बच्चों का इंटेलिजेंस लेवल अलग होता है, जिसके कारण वह चीजों को अलग तरह से समझते हैं, परफॉर्म करते हैं और याद रखते हैं। वे मानते थे कि सभी स्टूडेंट्स को ही पैरामीटर पर जज करने और उस आधार पर उनके साथ भेदभाव करने से बच्चे अपनी एबिलिटी के मुताबिक परफॉर्म नहीं कर पाते। दरअसल, हमारे एजुकेशन सिस्टम में स्टूडेंट के इंटेलिजेंस लेवल पर नहीं, बल्कि उनके स्कोर किए गए मा‌र्क्स पर फोकस किया जाता है। इंडियन इंटेलिजेंस टेस्ट की हेल्प से बच्चे के इंटेलिजेंस की सही एनालिसिस की जा सकती है और उसी के अनुसार उनके लिए सही करियर का चयन किया जा सकता है। आईआईटी की हेल्प से स्टूडेंट्स अपना इंटरेस्ट्स, फेवरेट सब्जेक्ट्स और पैशन के बारे में जानकर सही कॅरियर का चुन सकते हैं और काउंसलर्स की मदद से करियर को लेकर अपने कंफ्यूजन भी दूर कर सकते हैं।

आईडी -- http://www.indianintelligencetest.com

टेस्ट डेट फॉर ओपन सेंटर - 24 नवंबर

टेस्ट डेट फॉर स्कूल्स - 29 नवंबर

फॉर्म फीस - 150 रुपए

लास्ट डेट टू रजिस्टर - 20 नवंबर

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.