Republic Day Parade 2021: राफेल की झलक, लद्दाख की झांकी कुछ ऐसा होगा कोरोना काल में गणतंत्र दिवस परेड का नजारा

Republic Day Parade 2021 देश की राजधानी दिल्ली में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर होने वाली परेड को लेकर विशेष तैयारियां की गई हैं। आइए यहां जानें राजपथ पर होने वाली भव्य परेड से जुड़ी सभी जरूरी बातें और जानें इस बार क्या है खास...

Updated Date: Tue, 26 Jan 2021 09:38 AM (IST)

कानपुर (इंटरनेटडेस्क)। Republic Day Parade 2021 दिल्ली में 26 जनवरी, गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजपथ पर एक भव्य परेड का आयोजन होता जो रक्षा क्षमताओं, विविधता और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को प्रदर्शित करती है। यहां एक से बढ़कर एक खूबसूरत झांकियां निकलती हैं जो किसी कहानी या इतिहास के एक दृश्य को प्रदर्शित करती है। राजपथ पर होने वाली परेड में देश ही नहीं दुनिया की निगाहें होती हैं। ऐसे में हर साल की तरह इस साल भी विशेष तैयारियां की गई हैं। हालांकि इस साल की परेड कोविड-19 की वजह से काफी थोड़ी अलग होगी। नए राफेल पहली बार इस अंदाज में दिखाएंगे आकाश में अपना दम
भारत आए नए राफेल लड़ाकू विमान पहली बार 26 जनवरी को भारत की 72 वीं गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगे। भारतीय वायु सेना (IAF) के अनुसार, राफेल &वर्टिकल चार्ली&य बनाकर फ्लाईपास्ट के जरिए गणतंत्र दिवस परेड का समापन करेंगे।


केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद पहली बार दिखेगी लद्दाख की झांकी वहीं गणतंत्र दिवस समारोह में पहली बार केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद लद्दाख की झांकी दिखाई देगी। इस झांकी लद्दाख के उत्सव सांप्रदायिक सद्भाव शिल्प कला संस्कृति के अलावा मठ और स्तूप से देश-दुनिया को वाकिफ करवाया जाएगा। इसके लिए विशेष तैयारियां की गई हैं।

भावना कंठ परेड में शामिल होने वाली पहली महिला फाइटर पायलट बिहार के दरभंगा की भावना कंठ गणतंत्र दिवस 2021 की परेड में शामिल होने वाली पहली महिला फाइटर पायलट होंगी। भावना कंठ भारतीय वायु सेना की उस झांकी का हिस्सा होगी जिसमें लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट, सुखोई -30 फाइटर प्लेन और हल्के कॉम्बैट हेलिकॉप्टर का मॉक-अप दिखाया जाएगा।पहली बार बांग्लादेश सशस्त्र बल भारत की परेड में होगा शामिलबांग्लादेश सशस्त्र बल, जो 50 साल पहले अपने भारतीय समकक्षों के साथ लड़े थे गणतंत्र दिवस परेड में भी भाग लेंगे। यह भारत के इतिहास में तीसरी बार है कि किसी भी विदेशी सैन्य दल को गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है। इससे पहले फ्रांस और यूएई के प्रतियोगी भाग ले चुके हैं।कोविड की वजह से 55 वर्षों में पहली बार नहीं आ रहा कोई विदेशी मेहमान55 वर्षों में पहली बार भारत के गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि के रूप में विदेशी मेहमान नहीं शामिल होंगे। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पहले परेड के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था, लेकिन कोरोना की वजह से इसे बाद में रद करना पड़ा।
इस साल गणतंत्र दिवस परेड की दूरी भी काफी कम कर दी गई हैगणतंत्र दिवस परेड कथित तौर पर विजय चौक से शुरू होकर राष्ट्रीय स्टेडियम में समाप्त होगी। कोरोना वायरस महामारी की वजह से इस बार यह 8.2 किलोमीटर के बजाय सिर्फ 3.3 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।15 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की दर्शकों के रूप में एंट्री नहीं होगीवहीं इस बार सुरक्षा अधिकारी केवल 25,000 दर्शकों को ही परमीशन दे रहे हैं। 15 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की दर्शकों के रूप में एंट्री नहीं होगी। मीडिया रिपोर्टों से पता चलता है कि इस वर्ष महामारी के कारण सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक बलों के दल कम होंगे।

Republic Day 2021 Speech Ideas and Essay Ideas: गणतंत्र दिवस पर ऐसे तैयार कर सकते हैं भाषण और निबंध

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.