असहाय गीता को मिली आवासीय सहायता

2018-09-19T06:00:40Z

- ग्राम्य विकास आयुक्त की पहल पर महिला का नाम पीएम आवास के लिए चयनित

ALLAHABAD@inext.co.in

ALLAHABAD: जिसका कोई नही उसका खुदा होता है। भले ही वह किस रूप में बंदे तक मदद पहुंचा दे। मेजा के ईटवाकला गांव की रहने वाली गीता के साथ यही हुआ। मूसलाधार बारिश में उसका घर गिर गया था। इसकी जानकारी शासन को हुई तो ग्राम्य विकास आयुक्त नागेन्द्र प्रसाद सिंह के निर्देश पर उसे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास देने के लिए चयनित कर लिया गया। आयुक्त का कहना है कि गीता देवी को आवास देने के साथ ही सरकार की अन्य योजनाओं से से लाभांवित करते हुए स्वयं सहायता समूह के जरिए आर्थिक व सामाजिक प्रगति की मुख्यधारा से भी जोड़ा जाएगा।

सामाजिक कार्यकर्ता ने थी सराहनीय पहल

17 सितंबर 2018 को जिले सामाजिक कार्यकर्ता राजीव चंदेल ने फेसबुक पर पोस्ट किया कि इलाहाबाद जनपद के मेजा तहसील की ग्राम पंचायत ईंटवाकला गांव की रहने वाली गीता देवी का घर मूसलाधार बारिश में गिर गया। उसके पति रामनरेश का मानसिक स्वास्थ्य ठीक नहीं है। गीता अब पॉलीथिन के टेंट में रहती हैं। उसे सरकारी मदद की जरूरत है। इस पोस्ट को पढ़ते ही ग्राम्य विकास आयुक्त नागेन्द्र प्रसाद सिंह ने तत्काल उपायुक्त आवास तथा इलाहाबाद के पीडी को गीता देवी की मदद करने का निर्देश दिया। खण्ड विकास अधिकारी पूरी टीम के साथ गीता देवी के आवास पर गए और परिवार से जानकारी हासिल की। पीडी इलाहाबाद तथा खण्ड विकास अधिकारी मेजा ने अपनी रिपोर्ट मंगलवार को आयुक्त को भेज दी थी।

जरूरतमंदों की सहायता का दिया आदेश

रिपोर्ट में बताया कि गीता का घर बारिश में गिर गया है जिसके कारण उसे दैवीय आपदा फंड से भी मदद होगी और पीएम आवास योजना का लाभ दिया जाएगा। ग्राम्य विकास आयुक्त ने जनपद के समस्त खंड विकास अधिकारियों व ग्राम विकास अधिकारियों को क्षेत्र में संवेदनशीलता के साथ काम करने व इस तरह से जीवन बसर करने वालों की तत्काल मदद करने का आदेश दिया। उन्होंने ने बताया कि मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश गरीब व असहाय परिवारों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं से गरीब व असहाय परिवारों का जीवन स्तर ऊपर उठाया जा रहा है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.