शतक लगाने के बाद पंत का मां को लिखा ये मैसेज पढ़ आपकी आंखों से निकल आएंगे आंसू

2019-01-04T15:24:29Z

भारत के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने सिडनी टेस्ट में शानदार शतक जड़कर इतिहास रच दिया। पंत के लिए ये सेंचुरी इसलिए भी खास है क्योंकि आज उनकी मां का जन्मदिन है। इस मौके पर पंत ने इंस्टाग्राम आैर टि्वटर पर मां के लिए एक भावुक संदेश लिखा।

कानपुर। भारत बनाम आॅस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले जा रहे आखिरी टेस्ट में शतक लगाने के बाद रिषभ पंत ने सबसे पहले अपनी मां को याद किया। पंत की मां का आज जन्मदिन है। चूंकि वह दिनभर मैदान में बैटिंग करते रहे। एेसे में जब दिन का खेल खत्म हुआ तो उन्होंने मां के नाम इंस्टाग्राम पर एक इमोशनल मैसेज लिखा। आइए पढ़ें इस मैसेज का हिंदी अनुवाद..
''हैप्पी बर्थडे मां, आप वो इंसान हो जो हर परिस्थिति में मेरे साथ खड़ी रही। मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं। मुझे आज भी याद है जब तुम मेरे प्रैक्टिस सेशन आैर मैच में मेरे साथ जाया करती थी। आपने मेरी सारी परेशानियों को अपने सिर पर लिया। मैं इस सब को शब्दों में बयां नहीं कर सकता। लव यू आैर एक बार फिर जन्मदिन की मुबारकबाद।'' इस मैसेज के साथ पंत ने अपनी आैर मां की एक तस्वीर भी शेयर की।

Happy birthday mom 🎂🎂🎂. You are the person who is always behind me no matter what. I love you so much. Thank you for taking all the stress of mine and making it yours can’t even express my feelings in words. Love you happy birthday once again 🎂🎂🥳😘 pic.twitter.com/9XEaSPRUfB

— Rishabh Pant (@RishabPant777) 4 January 2019

मां के साथ लंगर में खाते थे खाना
रुड़की में जन्में रिषभ पंत का बचपन काफी मुश्किलों में बीता था। रिषभ जहां रहते थे, वहां क्रिकेट कोचिंग के बड़े स्कूल नहीं थे। अपने सपनों को पूरा करने के लिए रिषभ को क्रिकेट के गुर सीखने जरूरी थे। ऐसे में 12 साल का रिषभ अपनी मां के साथ दिल्ली आ गया। अनजान शहर में न रहने का ठिकाना था, न ही कोई पहचान का। पंत के कोच रहे देवेंद्र शर्मा ने एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया था कि, मां-बेटे मोती बाग के गुरुद्वारे में रहते थे। मां गुरुद्वारे में सेवा करती थी तो रिषभ सोनेट क्लब में क्रिकेट सीखने जाते थे। रात का खाना मां-बेटे गुरुद्वारे में ही खाते थे। कई महीनों तक यही चलता रहा, बाद में उन्होंने एक किराए के कमरे का जुगाड़ किया और वहां रहने लगे।
भारत के उभरते बल्लेबाज
रिषभ की मेहनत बेकार नहीं गर्इ। पिछले साल आर्इपीएल में धमाकेदार बैटिंग करने के बाद पंत को टीम इंडिया में खेलने का मौका मिल गया आैर अब तक वह अपनी तूफानी बल्लेबाजी से बहुतों को फैन बना चुके हैं। रिषभ अब तक भारत के लिए 8 टेस्ट, 3 वनडे आैर 10 टी-20 मैच खेल चुके हैं। यही नहीं दो टेस्ट शतक भी अपने नाम कर लिए।

72 सालों में आॅस्ट्रेलिया में शतक लगाने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बने रिषभ पंत

बल्ला छोड़ मैदान पर करतब दिखाने लगे रिषभ पंत, देखती रह गर्इ कंगारु टीम


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.