भारत को एशिया कप जिताने वाले कप्तान रोहित शर्मा कभी नहीं हारते फाइनल मैच

2018-09-29T13:47:49Z

एशिया कप 2018 फाइनल में भारत ने बांग्लादेश को 3 विकेट से हरा दिया। रोहित की कप्तानी में भारत ने सातवीं बार एशिया कप पर कब्जा किया। रोहित शर्मा ऐसे कप्तान हैं जो किसी बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में कप्तानी करते हैं तो हारते नहीं हैं।

कानपुर। यूएई में खेले गए एशिया कप 2018 का चैंपियन भारत रहा। विराट कोहली की गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इंडिया यह टूर्नामेंट खेलने आई थी। रोहित को कप्तानी का ज्यादा अनुभव तो नहीं है मगर जितने मैचों में उन्होंने कप्तानी की है टीम को ज्यादातर जीत दिलाकर लौटे हैं। क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, रोहित ने वनडे मैचों में कुल आठ बार कप्तानी की जिसमें एक मैच वो हार गए थे वहीं बाकी 7 मैच उन्होंने अपने नाम किए। यही नहीं वनडे में श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 208 रन की पारी रोहित शर्मा ने बतौर कप्तान खेली थी।
यहां से शुरु हुआ था कप्तान का सफर

एशिया कप 2018 जीतकर कप्तान रोहित ने साबित कर दिया है कि उनके अंदर कितनी काबिलियत है। वह इस टूर्नामेंट में अजेय रहे हैं और फाइनल जीतकर तो इतिहास ही रच दिया। रोहित के कप्तानी सफर की शुरुआत 2017 से हुई थी। दिसंबर 2017 में श्रीलंकन टीम तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलने भारत आई थी। उस वक्त विराट अपनी शादी के चलते छुट्टियां मना रहे थे ऐसे में टीम की कमान रोहित शर्मा के हाथों में सौंपी गई। बतौर कप्तान रोहित ने पहला वनडे मैच 10 दिसंबर 2017 में धर्मशाला में श्रीलंका के खिलाफ खेला था। पहले ही मैच में बतौर खिलाड़ी और कप्तान रोहित फ्लॉप रहे थे। बल्ले से जहां 2 रन निकले वहीं टीम यह मैच 7 विकेट से हार गई थी। पहले मैच में बुरी तरह पिटने के बाद रोहित ने दूसरे मैच में शानदार वापसी की। रोहित ने इस मैच में 208 रन की तूफानी पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई। यह मैच भारत ने 141 रन से अपने नाम किया था। बतौर वनडे कप्तान रोहित की यह पहली जीत थी। एक बार जीत का स्वाद चखने के बाद रोहित शर्मा अगले मैच में भी नहीं रुके। तीसरा मैच उन्होंने विशाखापत्तनम में खेला जहां वह बल्ले से तो नाकाम रहे मगर टीम को जीत जरूर दिला दी। शिखर धवन के नाबाद शतक की बदौत भारत ने यह मैच 8 विकेट से जीत लिया था।
कभी नहीं हारते फाइनल मैच
रोहित शर्मा ने कप्तान रहते हुए कभी कोई फाइनल मैच नहीं हारा है। श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने जहां टी-20 और वनडे सीरीज के निर्णायक मुकाबले जीते। वहीं निदाहास ट्रॉफी फाइनल में बांग्लादेश को हराकर भारत को चैंपियन बनाया था। यानी कि रोहित का किसी भी टूर्नामेंट या सीरीज के फाइनल मुकाबले में आज तक हार नहीं मिली। इस रिकॉर्ड को देखकर कहा जा सकता है कि अगर एशिया कप 2018 के फाइनल में भारत पहुंचता है तो टीम चैंपियन बनकर ही वापस लौटेगी।
जानिए भारत ने कब-कब जीता एशिया कप
भारत-बांग्लादेश मैच से पहले विराट कोहली देखने गए अनुष्का की नई फिल्म



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.