इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में मर्डर अभिषेक ने खोला रोहित की हत्या का पूरा सच!

2019-05-17T12:12:20Z

पीसीबी हॉस्टल में पूर्व छात्र की हत्या में आरोपी है अभिषेक यादव। एसटीएफ और पुलिस ने किया गिरफ्तार 25 हजार घोषित का इनाम।

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ : इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के पीसीबी हॉस्टल में पूर्व छात्र रोहित शुक्ला की गोली मारकर हत्या में नामजद किये गये एक और आरोपी अभिषेक यादव को एसटीएफ ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया है. उस पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित था. पुलिस और एसटीएफ ने उसके पास से एक तमंचा, दो कारतूस और 500 रुपए नकद बरामद होने का दावा किया है.

कमीशन को लेकर था विवाद

एसटीएफ टीम ने गिरफ्तार किए गए आरोपी अभिषेक यादव उर्फ नवनीत से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से पीजी कर रहा है. पीसीबी हॉस्टल के 68 नम्बर कमरे में रहता है. बताया कि जीएनझा हॉस्टल में एक्टिविटी सेंटर के लिए बिल्डिंग बन रही है. इसका ठेका वाराणसी के किसी ठेकेदार के पास है. ठेकेदार जेल में बंद छात्र नेता अभिषेक उर्फ माइकल के सम्पर्क में था. रोहित को इसकी भनक लगी तो वह बीच में आ गया और करीब चार करोड़ की लागत से बन रहे एक्टिविटी सेंटर के ठेकेदार पर दबाव बनाकर तीन लाख रुपए कमीशन के रूप में ले लिए. यह बात पीसीबी के 64 नम्बर कमरे में रहने वाले आदर्श त्रिपाठी को नागवार गुजरी. उसने एक्टिविटी सेंटर के निमार्ण कार्य को रुकवा दिया.

जेल में हुई थी समझौते की पहल

इसकी जानकारी नैनी सेंट्रल जेल में बंद अभिषेक सिंह उर्फ माइकल को हुई तो उसने रोहित शुक्ला और आदर्श त्रिपाठी को जेल में बुलाकर आपस में बैठकर मामले को सुलझाने के लिए कहा. 15 अप्रैल की रात में रोहित शुक्ला और आदर्श त्रिपाठी के लोग पीसीबी हॉस्टल में मीटिंग कर रहे थे. उसी दौरान पैसे की लेन देन की बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया. मामला इतना बढ़ गया कि दोनों पक्ष की ओर से बमबाजी और फायरिंग शुरू हो गई. फायरिंग के बीच रोहित शुक्ला अपने साथियों के साथ मौके से भागने लगा. इसी बीच आदर्श और उसके साथियों ने रोहित को पकड़ लिया और उसकी हत्या कर दी.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.