25 करोड़ की करेंसी को चट कर रहे चूहे

2019-01-19T06:00:50Z

कोषागार में जमा कराने के लिए थानेदार ने लगाई कोर्ट से गुहार

परतापुर थाने के मालखाने में जमा हैं 25 करोड़ की करेंसी

Meerut । परतापुर थाने के मालखाने में रखी 25 करोड़ की पुरानी करेंसी को चूहे चट कर रहे है, लिहाजा थानेदार ने इस रकम को कोषागार में जमा कराने के लिए कोर्ट में गुहार लगाई है। वहीं, कोर्ट ने भी थानेदार की गुहार पर इन रुपयों को कोषागार में जमा करने के आदेश जारी किए।

क्या है मामला

गौरतलब है कि 29 दिसंबर 2017 को राजकमल एनक्लेव ए - ब्लाक निवासी बिल्डर संजीव मित्तल के घर पर पुलिस ने छापा मारकर 25 करोड़, 5 लाख, 50 हजार की पुरानी करेंसी को बरामद किया था। इसके साथ पुलिस ने अरूण गुप्ता,योगेश कुमार,विनोद शर्मा,नरेश अग्रवाल निवासी कड़कड़डूमा दिल्ली को गिरफ्तार कर लिया था। तत्कालीन एसएसपी मंजिल सैनी ने बरामद 25 करोड़ की पुरानी करेंसी को परतापुर थाने के मालखाने में जमा करा दी थी। पुलिस ने आरोपी संजीव मित्तल समेत छह लोगों के खिलाफ परतापुर थाने में गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कराया गया था।

खराब होने की आशंका

परतापुर थाने के इंस्पेक्टर नीरज मलिक ने एडीशनल सीजेएम कोर्ट न। 7 में प्रार्थना पत्र दिया कि परतापुर थाने में पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 3/ 2018 अतंर्गत धारा 420, 511, 120 बी में अभियुक्तगण संजीव मित्तल आदि से बरामद पुरानी करेंसी 500, 1000 के नोट कुल 25 करोड़ 5 लाख व 50 हजार रुपये जो परतापुर थाने के मालगृह में रखे हैं। मालगृह की स्थिति सही नहीं है। वहां पर कीड़े-मकोड़े व चूहे घूम रहे है। जिससे वहां पर रखी पुरानी करेंसी के खराब होने की आशंका है। लिहाजा उक्त करेंसी को कोषागार में जमा कराया जाए। जिससे करेंसी को खराब होने से बचाया जाए।

कोर्ट ने दिए आदेश

करेंसी के मामले को देखते हुए कोर्ट ने परतापुर इंस्पेक्टर को आदेश दिए कि वह पुरानी करेंसी को तुरंत कोषागार में जमा कराए। जिससे वह सुरक्षित रह सके।

25 करोड़ की पुरानी करेंसी को कोषागार में जमा कराने के लिए कोर्ट में आवेदन दिया था। कोर्ट ने आदेश कर दिया है कि पुरानी करेंसी को कोर्ट में जमा कराया जाए। कोर्ट के आदेश की कॉपी मुख्य कोषाधिकारी को उपलब्ध करा दी गई है।

नीरज मलिक, इंस्पेक्टर परतापुर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.