सचिन तेंदुलकर के गुरु रमाकांत आचरेकर नहीं रहे तस्वीर में देखिए उन्होंने कैसे दी थी सचिन को ट्रेनिंग

2019-01-03T09:50:23Z

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट के गुर सिखाने वाले कोच रमाकांच आचरेकर अब इस दुनिया में नहीं रहे। द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित आचरेकर ने 87 साल की उम्र में मुंबर्इ में अंतिम सांस ली। सचिन ने इस दुखद घड़ी में श्रद्घांजलि देते हुए एक भावुक ट्वीट किया।

कानपुर। भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने जिनसे ट्रेनिंग लेकर दुनिया में नाम कमाया वो गुरु अब उनको छोड़कर जा चुके हैं। सचिन ने क्रिकेट की एबीसीडी रमाकांत आचरेकर से सीखी। नन्हें सचिन ने जब बैट लेकर एक क्रिकेटर बनने का सपना देखा तो उसे सही दिशा दिखार्इ कोच आचरेकर ने। सचिन के साथी खिलाड़ी रहे विनोद कांबली ने भी आचरेकर से ही ट्रेनिंग ली थी। ये दोनों मुंबर्इ के शिवाजी पार्क में कोचिंग लेने जाते थे। सचिन को बल्लेबाजी सिखाते हुए आचरेकर सर की एक तस्वीर आज भी याद की जाती है। दरअसल उनकी निधन की खबर आते ही आर्इपीएल टीम मुंबर्इ इंडियंस ने आचरेकर की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की जिसमें वह छोटी उम्र के सचिन को बल्लेबाजी टिप्स दे रहे हैं।
भारतीय क्रिकेट में उनका योगदान अहम
इस तस्वीर को पोस्ट करते हुए मुंबर्इ इंडियंस ने कैप्शन लिखा, 'द्रोणाचार्य अवार्डी, पद्म श्री आैर सचिन तेंदुलकर के पहले कोच रमाकांत आचरेकर सर नहीं रहे।' यही नहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआर्इ) ने भी आचरेकर सर को श्रद्घांजलि दी। बीसीसीआर्इ ने ट्वीट में लिखा, उन्होंने न सिर्फ भारत को महान क्रिकेटर दिए बल्कि उन्हें एक अच्छा इंसान भी बनाया। भारतीय क्रिकेट में उनका योगदान हमेशा याद किया जाएगा।

The BCCI expresses its deepest sympathy on the passing of Dronacharya award-winning guru Shri Ramakant Achrekar. Not only did he produce great cricketers, but also trained them to be fine human beings. His contribution to Indian Cricket has been immense. pic.twitter.com/mK0nQODo6b

— BCCI (@BCCI) 2 January 2019

सचिन ही नहीं इन्हें भी सिखाया क्रिकेट
बताते चलें आचरेकर ने खुद एक ही फर्स्ट क्लाॅस मैच खेला लेकिन तेंदुलकर के करियर को संवारने में उनका बड़ा योगदान रहा। वह अपने स्कूटर से उन्हें स्टेडियम तक ले जाते थे। आचरेकर सर अनुशासन प्रिय थे। आचरेकर को क्रिकेट कोच के रूप में उनकी सेवाओं के लिए 1990 में द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। बैंक कर्मचारी रहे आचरेकर को 2010 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। तेंदुलकर के अलावा वह कुछ अन्य प्रसिद्ध खिलाड़ियों के कोच रहे हैं, जिनमें विनोद कांबली, प्रवीण आमरे, समीर दिघे और बलविंदर सिंह संधू शामिल हैं।

साल 2019 का क्रिकेट कैलेंडर, कब-कहां कौन सा मैच खेलेगी टीम इंडिया
2019 में 16 देशों में खेले जाएंगे 24 वर्ल्ड कप, क्रिकेट विश्व कप में पहली बार होगा एेसा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.