सचिन तेंदुलकर को मिला ICC Hall Of Fame सम्मान इस शर्त की वजह से पहले नहीं मिल पाया

2019-07-19T11:12:04Z

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को आईसीसी हाॅफ ऑफ फेम से सम्मानित किया गया है। इस साल आईसीसी ने तीन क्रिकेटरों को इस सम्मान से नवाजा है जिसमें एक सचिन तेंदुलकर भी हैं।

दुबई (एएनआई)। क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर को गुरुवार को आईसीसी हाॅफ ऑफ फेम से नवाजा गया। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने इस साल तीन खिलाड़ियों को इस सम्मान के लिए चुना। जिसमें सचिन तेंदुलकर, एलन डोनाल्ड और कैथरीन फिजपैत्रिक का नाम शामिल है। बता दें सचिन ये अवार्ड पाने वाले छठे भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। इससे पहले बिशन सिंह बेदी, सुनील गावस्कर, कपिल देव, अनिल कुंबले और राहुल द्रविड़ को यह सम्मान मिल चुका है।

जानें क्या कहना है सचिन का

गुरुवार को लंदन में अायोजित एक कार्यक्रम में सचिन को ये अवाॅर्ड सौंपा गया। इस मौके पर तेंदुलकर ने कहा, 'आईसीसी क्रिकेट हाॅल ऑफ फेम में शामिल होना सम्मान की बात है। इसका मकसद क्रिकेट को और प्रसिद्घ बनाना है। मुझे खुशी है कि इसमें मैंने भी अपना योगदान दिया।' सचिन ने आगे कहा, 'इस अवसर पर मैं उन लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने मेरे इतने लंबे इंटरनेशनल करियर पर हमेशा साथ दिया। मेरे पेरेंट्स, भाई अजीत और पत्नी अंजलि का सपोर्ट हमेशा रहा।'

A 🤳 with the three ICC Hall of Fame inductees 😄 #ICCHallOfFame pic.twitter.com/cXnL1Ln6W2

— ICC (@ICC) 18 July 2019


कहे जाते हैं क्रिकेट के भगवान
सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। सचिन ने इंटरनेशनल क्रिकेट में वो रिकाॅर्ड बनाए हैं जहां पहुंचना काफी मुश्किल है। सचिन टेस्ट इतिहास में सबसे ज्यादा 15,921 रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वहीं वनडे में मास्टर ब्लाॅस्टर के नाम 18,426 रन दर्ज हैं। यही नहीं सचिन के नाम 100 इंटरनेशनल शतक भी हैं। 46 साल के हो चुके तेंदुलकर ने 16 साल की उम्र में डेब्यू किया था। सचिन के नाम क्रिकेट के सभी फाॅर्मेट में मिलाकर 34,357 रन हैं जोकि दूसरे नंबर पर स्थित कुमार संगकारा से 6 हजार रन ज्यादा हैं।

जानें सचिन ने कब दिया था पहला इंटरव्यू, पूछे गए थे ये 8 सवाल

 
इसलिए देर से मिला सम्मान
सचिन तेंदुलकर ने दो दशक से ज्यादा क्रिकेट खेला। हालांकि वनडे से उन्होंने 2012 में संन्यास ले लिया था। अपने दूसरे आखिरी मैच में उन्होंने 100वां इंटरनेशनल शतक लगाया था। वहीं टेस्ट में आखिरी बार सचिन 2013 में मैदान में उतरे थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ इस टेस्ट मैच में सचिन ने अपने आखिरी मैच में 71 रन बनाए थे। यह उनका 200वां मैच था। खैर सचिन को आईसीसी हाॅल ऑफ फेम सम्मान पाने में इतना वक्त इसलिए लगा क्योंकि इस अवाॅर्ड के लिए नियम है कि खिलाड़ी जब ये सम्मान पाए तो वह 5 साल पहले क्रिकेट छोड़ चुका हो। ऐसे में सचिन ने 2019 में इस शर्त को पूरा किया।

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.