Sakchi Becomes Den For Eveteasers

2013-09-08T12:26:00Z

Jamshedpur अब इस चाहे एडमिनिस्ट्रेशन की नाकामयाबी कहें या सोसाइटी का तेजी से बदलता हुआ चेहरा लाख कोशिशों के बाद भी सिटी मे ईवटीजिंग की घटनाएं नहीं रुक रही हैं क्या आपको पता है कि सिटी के किस एरिया में सबसे ज्यादा ईवटीजिंग के केसेज सामने आते हैं? नहीं तो हम बताते हैं कि सिटी में महिलाएं सबसे ज्यादा साकची एरिया में अनसेफ हैं ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि आंकड़े बता रहे हैं

साकची में सबसे अनसेफ है महिलाएं

सिटी के सबसे डेंस्ड पॉपुलेटेड एरिया साकची में सिर्फ अगस्त में 31 ईव-टीजिंग की कंप्लेंस आई हैं. साकची थाने में स्थित ईव-टीजिंग सेल की इंचार्ज कुमारी तिलोत्मा ने बताया कि दरअसल साकची मार्केट एरिया में सबसे ज्यादा छेडछाड़ की वारदातें होती हैं, क्योंकि यहां गल्र्स और वूमेंस की चहल-कदमी ज्यादा होती है.

लगने चाहिए CCTV cameras
साकची मार्केट के शॉप ओनर्स का कहना है कि यह सिटी का सबसे बड़ा मार्केट है. यहां छोटी-बड़ी मिलाकर करीब 5000 शॉप्स हैं. जरूरत का लगभग हर सामान इस मार्केट में मिल जाता है. ऐसे में यहां पर लेडीज का फुटफॉल ज्यादा होता है. इसके चलते मनचले भी यहां घूमा करते हैं. ऐसे में अगर यहां पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं, तो कुछ हद तक इस मनचलों पर रोक लगाई जा सकती है. साकची मार्केट में सीसीटीवी कैमरे लगाने को लेकर हाल ही में चैंबर ऑफ कॉमर्स के मेंबर्स ने डीसी अमिताभ कौशल से मुलाकात की थी और कमिटी की ओर से फंड प्रोवाइड करने के लिए भी कहा गया था.

सांसद फंड से भी मिलेगा पैसा
इससे पहले एमपी अजय कुमार ने भी मार्केट में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के मुद्दे को उठाया था और कहा था कि अगर ये इनीसिएटिव लिया जाता है, तो एमपी फंड से की जाएगी. एमपी अजय कुमार का कहना है कि कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान कई सीसीटीवी कैमरे आए थे, जिन्हें सिटी की कई जगहों पर लगाया जाना था. आखिर वो कैमरे कहां गए.

की जा रही कोशिश
फेस्टीव सीजन जैसे-जैसे करीब आ रहा है वैसे-वैसे मार्केट में रौनक बढ़ रही है. इसके साथ एडमिनिस्ट्रेशन ने भी ईव टीजर्स की धर पकड़ के लिए कमर कस ली है. डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर कन्हैया उपाध्याय ने बताया कि उन्होंने एक खास प्लान बनाया है. इसके तहत प्रोन एरियाज में एंटी ईव-टीजिंग सेल की महिला पुलिसकर्मी सादी वर्दी में गश्त लगाएंगी और किसी भी शख्स पर संदेह होते ही उसके अगेंस्ट कार्रवाई होगी. इतना ही नहीं अब पुलिस पेट्रोलिंग को भी तेज की जा रही है. उन्होंने बताया कि सीसीटीवी कैमरे लगाने वाले मुद्दे पर अभी डिस्कशन चल रहा है. होपफुली इस प्रोग्राम को आने वाले दिनों में एक्जीक्यूट भी कर दिया जाएगा.

'ईव-टीजिंग साकची में होती है, क्योंकि यहां लेडीज की भीड़ सबसे ज्यादा होती है.'
-कुमारी तिलोत्मा, इंचार्ज, एंटी ईव-टीजिंग सेल, साकची
'ईव-टीजिंग को रोकने के लिए हमने एक प्लान बनाया है, जिसके तहत महिला पुलिस सादी वर्दी में प्रोन एरियाज में गश्त लगाएंगी. इसके अलावा पेट्रोलिंग भी तेज की जा रही है.'
-कन्हैया उपाध्याय, डीएसपी, लॉ एंड ऑर्डर

Report by: rajnish.tiwari@inext.co.in


 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.