जमशेदपुर GPS से लैस होंगी बसें वाईफाई जोन बनेगा साकची स्टैंड

2018-05-24T15:10:35Z

जमशेदपुर। मिनी बस एसोसिएशन की नई कमिटी यात्रियों के लिए नई सौगात लेकर आ रही है। कमिटी बस स्टैड को वाई-फाई जोन बनाएगी। साथ ही, यहां से चलने वाली सारी बसों को जीपीएस से लेस करेगी। स्टैंड के साथ बसों में वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी, उसका पासवर्ड बस में लिखा रहेगा। एसोसिएशन के सचिव दिलीप झा ने बताया की वाई-फाई बिल्कुल फ्री होगी। इस पर बैठक चल रही है, जल्द ही सर्वसम्मति से इसे लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि लोगों की सुविधा को देखते हुए ऐसा किया जा रहा है। दिलीप झा ने बताया कि चूंकी सिटी बसों में सफर करनेवाले ज्यादातर स्टूडेंट्स तथा यूथ हैं। उनकी सुविधा को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। इससे बसों में यात्रियों का भी इजाफा होगा।


जीपीएस से लेस होंगी बसें

कई इलाकों में बसों के परिचालन में परेशानी का सामना करना पड़ता है। बसों में नजर रखने के लिए बसों में जीपीएस लगाया जाएगा। ददमा, सोनारी, टेल्को, राहरगोड़ा, गोविंदपुर, बारीडीह, पारडीह, बर्मामाइंस, स्टेशन रुट के बसों में जीपीएस लगाई जाएंगी।


वाई फाई लेस हैं कांड्रा की बसें

पहले प्रयोग के तौर पर कांड्रा की बसों में वाई-फाई लगाई गई। इस रूट के यात्री वाई-फाई का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके बाद से इस रूट की बसों में यात्रियों की संख्या प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। इसी को देखते हुए बस एसोसिएशन ने बस स्टैंड सहित सारे रूट की बसों में वाई-फाई लगाने का फैसला किया जा रहा है।


रुट विस्तार होगा

मिनी बस एसोसिएशन के सचिव दिलीप झा ने बताया कि पहले के मुकाबले शहर का काफी विस्तार हुआ है। जनसंख्या में भी काफी इजाफा हुआ है, इसलिए नए रूटों पर सिटी बस चलाने की कोशिश भी की जा रही है। नए रूटों में बिरसानगर तथा बागुनहातू पर एसोसिएशन का ज्यादा ध्यान केंद्रित है। बर्मामाइंस से होते हुए स्टेशन तक जाने वाले रुट का विस्तार होगा। इसके लिए इन रूटों को चिन्हित कर डीसी के माध्यम से परमिट की मांग की जाएगी।


बढ़ सकता है भाड़ा

मिनी बस एसोसिएशन के सचिव ने बताया डीजल के दाम में बढ़ोतरी होती जा रही है। इसको देखते हुए भाड़ा बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है। जल्द ही इसका ऐलान भी कर दिया जाएगा।

 

साकची मिनी बस स्टैंड को को वाई-फाई जोन लेकर बैठक चल रही है। रूट का भी विस्तार किया जाएगा। वाई-फाई जोन बनने से बसों में यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी होगी।

-दिलीप झा, सचिव, मिनी बस एसोसिएशन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.