अवैध खनन केस एमएलसी रमेश मिश्रा ने प्रॉपर्टी फिल्म फाइनेंस और क्रसर में एेसे खपाई काली कमाई

2019-01-06T12:22:14Z

यूपी के कर्इ जिलों में अवैध खनन करवाने वाले गिरोह का सरगना एमएलसी रमेश मिश्रा रहा है। सीबीआई की टीम ने एमएलसी रमेश मिश्रा के नौबस्ता रोड स्थित घर पर छापा मारा है। इस दाैरान उनकी काली कमाई के बारे में भी कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं। यहां पढ़ें कैसे खपती थी ये कमार्इ

kanpur@inext.co.in
KANPUR: रमेश मिश्रा और उनके भाई दिनेश मिश्रा ने अवैध खनन से अरबों रुपये की काली कमाई की है। जिसे दोनों भाइयों ने प्रॉपर्टी, सोना, फिल्म फाइनेंस और स्टोन क्रसर में खपाया है। दोनों भाइयों को पता था कि भविष्य में कभी भी जांच एजेंसियों की गाज उन पर गिर सकती है। इसलिए दोनों भाई ज्यादातर काम दूसरे के नाम पर कर रहे है। शहर में दोनों भाइयों का पाटर्नर है, जो सीबीआई की जांच के घेरे में आ गया है। माना जा रहा है कि सीबीआई अब दोनों भाइयों के इस पार्टनर के घर और ऑफिस को खंगाल सकती है। चंदेल परिवार से पार्टनरशिप एमएलसी रमेश मिश्रा का कानपुर में सबसे करीबी विजय नगर निवासी चंदेल परिवार है। यह तीन भाइयों का संयुक्त परिवार है। जिसमें दो भाई पुलिस विभाग से रिटायर हुए हैं। जिसके बाद तीनों भाई और उनके बेटों ने काकादेव में प्रॉपर्टी का काम शुरू किया था। इनका ऑफिस काकादेव में आगरा स्वीट हाउस के पास है। सूत्रों के मुताबिक यह परिवार एमएलसी रमेश मिश्रा का पार्टनर है। जिसने साउथ सिटी में पराग दूध डेरी के पास करोड़ों की जमीन खरीदी है। अब यह परिवार सीबीआई की जांच के घेरे में आ गया है।
संजय दीक्षित का भी है कानपुर कनेक्शन
सीबीआई ने बसपा नेता संजय दीक्षित के घर पर भी छापा मारा है। संजय भले ही बांदा निवासी है, लेकिन उसका भी रमेश की तरह कानपुर से कनेक्शन है। संजय बांदा निवासी दुबे परिवार के यहां मुनीम था, जो अब कानपुर के कैंट इलाके में रहते है। संजय नौकरी छोडऩे के बाद अवैध खनन से जुड़ गया और अब वह अरबों की संपत्ति का मालिक है।

अवैध खनन का रमेश कनेक्शन, पूरे यूपी में कानपुर से ऑपरेट होता था 'खेल'

IAS चंद्रकला के साेशल मीडिया पर हैं लाखाें फाॅलोवर, यहां देखें उनकी पसर्नल व प्रोफेशनल लाइफ


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.