सेंसिटिव बूथों पर स्टेट पुलिस की पैनी नजर

2019-03-10T06:00:28Z

RANCHI: लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए स्टेट पुलिस के अधिकारियों ने संवेदनशील बूथों पर पैनी नजर रखनी शुरू कर दी है। पिछले लोकसभा चुनाव के अनुभवों को ध्यान में रखते हुए पुलिस मुख्यालय ने हर जिले के एसपी को जल्द से जल्द सेंसिटिव बूथों की लिस्ट देने का आदेश जारी किया है। पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान झारखंड में नक्सलियों के बहिष्कार के बावजूद शांतिपूर्ण मतदान संपन्न हुआ। राज्य में 58.03 परसेंट वोटर्स ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें कोडरमा में सबसे अधिक 60.97 परसेंट मतदान हुआ वहीं पलामू, लोहरदगा एवं चतरा में 59.30, 59 एवं 53.88 फीसदी मतदान हुआ। मतदान केंद्रों पर 1,193 वीडियो कैमरा लगाए गए। 271 केंद्रों पर वेबकास्टिंग हुई और 1,189 सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए।

2000 से अधिक बूथ संवेदनशील

सुचारू मतदान के लिए लगभग 40,000 सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई थी और छह हेलिकॉप्टर की सेवाएं ली गईं, जिनमें से दो हवाई सर्वेक्षण में लगे रहे। मतदाताओं ने 2,134 संवेदनशील सहित 7,058 मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

हेल्पलाइन नंबर 1950 जारी

लोकसभा चुनाव को लेकर भारतीय निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूची पुनरीक्षण को लेकर हेल्पलाइन नंबर 1950 की शुरुआत की है। रांची जिला प्रशासन ने इस हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से मतदाताओं को जानकारी देने और उनकी शिकायतों के निवारण की व्यवस्था की है। अब सिटी के लोगों और खासकर वोटर्स को किसी भी तरह की जानकारी के लिए टोलफ्री नंबर 1950 डायल करें। मामले के निष्पादन के लिए जिला प्रशासन के अधिकारी तुरंत प्रयास करेंगे।

मिलेंगी ये जानकारियां

-हेल्पलाइन नंबर 1950 के माध्यम से मतदाताओं को पता चलेगा कि वोटर लिस्ट में उनका नाम है या नहीं।

-मतदाता सहायता केंद्र हेल्पलाइन से मतदाता सूची में नाम जुड़वाने, हटाने एवं सुधार संबंधी जानकारी हासिल की जा सकती है।

-शिकायत के निराकरण की जानकारी

-मतदाता सूची रजिस्ट्रेशन की पूरी जानकारी मिलेगी।

-अपने मतदान केंद्र एवं विधानसभा की जानकारी

-अपने जिले के डीइओ, इआरओ, एइआरओ की जानकारी

-बीएलओ, बीएलओ सुपरवाइजर की जानकारी मिलेगी।

-इवीएम एवं वीवीपैट संबंधी जानकारी

-चुनाव संबंधी जानकारी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.