तीन राज्यों के परिणाम से सबक ले सरकार

2018-12-24T06:00:57Z

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: सेवा समिति विद्या मंदिर इण्टर कॉलेज रामबाग में एकमात्र मुद्दा पुरानी पेंशन बहाली को लेकर संघर्षरत अटेवा पेंशन बचाओ मंच प्रयागराज के जिला संयोजक सुरेश यादव की अध्यक्षता में एक बैठक हुई। बतौर मुख्य अतिथि प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ हरि प्रकाश यादव ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि 26 नवंबर 2018 को दिल्ली के रामलीला मैदान में वहां के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के द्वारा पुरानी पेंशन बहाल किए जाने से पूरे देश के विभिन्न राजनीतिक दलों में पुरानी पेंशन बहाली के मुद्दे को अपनाने की होड़ मच गई है। 26 नवंबर की रैली का ही परिणाम रहा कि कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में अटेवा / एन0एम0ओ0पी0एस0 के द्वारा किए गए ऐतिहासिक प्रदर्शन में दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों को मजबूर होकर धरना स्थल पर आना पड़ा और अति शीघ्र पुरानी पेंशन बहाल करने के संबंध में निर्णय लेने का आश्वासन देना पड़ा।

शीघ्र बहाल की जाए पुरानी पेंशन

बैठक में सभी को संबोधित करते हुए प्रदेश प्रवक्ता उपेंद्र वर्मा ने कहा कि केंद्र एवं उ0प्र0 की सरकार जितनी जल्दी हो सके पुरानी पेंशन बहाल कर दें, उसके लिए उतना ही अच्छा । मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के चुनाव परिणाम से सबक लेना चाहिए । मिशन 2019 के मद्देनजर जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार बन गई है उन राज्यों में कांग्रेस को भी जल्द से जल्द पेंशन बहाल कर देना चाहिए । बैठक के बाद अटेवा मेंबर मो0 नईम प्र0अ0, प्राथमिक विद्यालय पूरे ठकुराइन प्रतापपुर के आकस्मिक निधन पर 2 मिनट का मौन रखकर शोक व्यक्त किया गया। बैठक एवं शोक सभा में जिला महामंत्री कमल सिंह , अरुण कुमार, आशीष कुमार गुप्ता, सैय्यद मो0 दानिश, अनुराग पाण्डेय, तेज बहादुर सिंह, अशोक कुमार सिंह, पवन कुमार मिश्र, संजय कुमार वर्मा, अंजुला दास, सुनील शर्मा, राम कैलाश यादव, अमर बहादुर, पवन कुमार सिंह, रत्‍‌नेश सिंह, आदि सैकड़ों शिक्षक कर्मचारी मौजूद रहे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.