10 साल से हो रहा था यौन शोषण पुलिस ने छुड़ाया

2015-01-22T07:02:17Z

RANCHI: दस साल से मानसिक और यौन उत्पीड़न झेल रही नाबालिग को चुटिया थाना पुलिस ने वहशी दरिंदों केचंगुल से छुड़ा लिया है। मामले में पुलिस ने आरोपी रामप्रकाश राय को गिरफ्तार भी कर लिया है, जो पेशे से एडवोकेट है। मजिस्ट्रेट ने लड़की के बयान के आधार पर चुटिया थाना में रामप्रकाश राय की पत्‍‌नी मिलांचा राय व उसके देवर टुन्ना राय के विरुद्ध भी प्राथमिकी दर्ज करवाई है।

पीडि़ता को मुक्त कराने में सिटी डीएसपी सनत कुमार सोरेन, चुटिया सर्किल इंस्पेक्टर इंद्रमणि चौधरी, चुटिया थानेदार विजय कुमार, चाइल्ड हेल्पलाइन के मेंबर्स व बाल कल्याण समिति की मजिस्ट्रेट मीरा मिश्रा का सराहनीय योगदान है। पुलिस टीम ने बड़ी ही सूझ-बूझ के साथ छापेमारी कर आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

दिन भर काम और एक वक्त का देते थे खाना

बताया जाता है कि लड़की दस साल से यौन उत्पीड़न झेल रही थी। आरोपी राम प्रकाश राय ने पुलिस को बताया कि उस लड़की को दस साल पूर्व धनेश्वर साहू ने अमरावती कॉलोनी स्थित मकान में काम करने के लिए दिया था। उसे उसकी रिश्ते में लगनेवाली दीदी लोहरदगा से लाई थी। मकान में रामप्रकाश राय लड़की से काम करवाता था और बदले में उसे एक वक्त का खाना देता था। इस दौरान तीनों बच्ची का मानसिक और यौन शोषण करते रहते थे। विरोध करने पर मार डालने की धमकी दी जाती थी।

रात में थानेदार को आया फोन

पीडि़ता ने मंगलवार की रात 12 बजे के करीब चुटिया थानेदार विजय कुमार सिंह के मोबाइल पर कॉल किया। इसके बाद उसने बताया कि वह दस सालों से लगातार यौन उत्पीड़न और मानसिक उत्पीड़न की शिकार हो रही है। इस मामले की जानकारी थानेदार ने एसएसपी, सिटी एसपी को दी। इसके बाद पुलिस एक्टिव हुई और एक टीम गठित की गई। इसमें चाइल्ड लाइन के मेंबर्स, बाल कल्याण समिति की मजिस्ट्रेट को भी रखा गया। इसके बाद अमरावती कॉलोनी में पीडि़त लड़की की तलाश होने लगी। उसी क्रम में पुलिस ने एक मकान में धावा बोला तो लड़की पुलिस को देख कर भागने लगी। पूछताछ करने पर पता चला कि उसी ने चुटिया पुलिस को कॉल किया था। इसके बाद पुलिस ने उक्त मकान में छापेमारी की, और आरोपी रामप्रकाश राय को गिरफ्तार कर लिया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.