Startup Idea 'शाॅपमेट' पर शॉपिंग हुई आसान सामान देखो ऑनलाइन खरीदो ऑफलाइन

2019-11-11T08:39:23Z

आजकल ज्यादातर लोग शॉपिंग करते समय किफायत के आधार पर ऑनलाइन शॉपिंग को प्रिफर करते हैं लेकिन कहीं न कहीं उनके मन में डाउट रहता है कि पता नहीं उसकी क्वालिटी कैसी हो। ऑर्डर करने के कुछ दिन बाद वह सामान आए और फिर उसको वापस करना पड़े। इसमें बेवजह लंबा समय खर्च होता है। उनकी इसी प्रॉब्लम का बिंदास सॉल्यूशन दिया है नोएडा की संभवी सिन्हा ने अपने स्टार्टअप शॉपमेट से

कानपुर (फीचर डेस्क)। शॉप-मेट की ऑनलाइन साइट पर आपको ढेर सारे ऑफर्स के साथ गैजेट्स, व्हीकल्स और इलेक्ट्रॉनिक सामानों के ढेर सारे ब्रांड्स मिल जाएंगे। इनसे जुड़ी चीजों को आप यहीं पर दिखाए गए रेट पर बुक कर सकते हैं और उसके बाद साइट पर दिखाए गए आपके नजदीकी ऑफलाइन स्टोर से उसे उसकी क्वालिटी देख-परखकर खरीद सकते हैं। आप चाहें तो ऑनलाइन उसको सिलेक्ट करते समय ही उसका पेमेंट भी कर सकते हैं और चाहें तो ऑफलाइन सामने देखते समय अगर आपको वो सामान पसंद न आए तो उसकी बुकिंग कैंसिल भी कर सकते हैं।  
ऐसे आया आइडिया

संभवी कहती हैं कि कॉलेज टाइम पर उन्हें भी अपनी फ्रेंड्स को देखकर ऑनलाइन शॉपिंग का क्रेज हुआ। उन्हें भी घर बैठे खरीददारी करनी अच्छी लगने लगी, लेकिन एक्सपीरियंस न होने के चलते वह कुछ भी मंगातीं, तो उसकी क्वालिटी उनके मन-मुताबिक नहीं निकलती। तभी उनके मन में ये ख्याल आया कि क्यों न कुछ ऐसा हो कि प्रोडक्ट को चूज करने के लिए मार्केट में भटकने के चक्कर से वो बच जाएं। सिलेक्शन और बुकिंग तो वो ऑनलाइन करें, लेकिन खरीदें उसको सामने देखकर ही। यूनिवर्सिटी ऑफ वर्जीनिया से मैथमेटिक्स और कॉमर्स में ग्रेजुएशन करने के बाद उन्होंने अपने इसी आइडिया पर काम किया और शॉप-मेट को लॉन्च कर दिया। इनके ऐप को एंड्रॉयड फोन पर डाउनलोड किया जा सकता है।  
...और फिर यूं चल पड़ा कारवां
संभवी को अपना स्टार्टअप शुरू करने में बड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ा और सबसे बड़ी चुनौती उनके सामने आई दुकानदारों को जोडऩे की। उनकी टीम ने उन्हें समझाया कि ऑनलाइन युग में दुकानों पर लोगों का आना कम हुआ है। ऐसे में कंपनी ऑनलाइन ऑर्डर लेकर उनके पास ग्राहक भेजेगी। इस काम के लिए कंपनी दुकानदार से कमीशन लेगी। कुछ लोगों को यह बात समझ में आई। थोड़े समय में ही उनके साथ दिल्ली-एनसीआर के 700 दुकानदार जुड़ गए। कस्टमर्स का फायदा समझाते हुए उन्होंने बताया कि वे ठगी से बचते हैं।
अब नेक्स्ट टारगेट
फिलहाल संभवी की कंपनी इस समय इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स, बाइक्स, स्कूटर्स, मोबाइल्स, टैबलेट्स, लैपटॉप्स और डेस्कटॉप कंप्यूटर्स में डील करती है। उनका ये काम इस समय टू टियर सिटी में अपनी अच्छी पहचान बना चुका है। इस क्रम में अब संभवी का नेक्स्ट टारगेट मेरठ, इंदौर, कानपुर, इलाहाबाद और भोपाल जैसे शहर हैं।
features@inext.co.in


Posted By: Vandana Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.