लखनऊ में बेटों ने पिता को पीटपीटकर मार डाला

2019-06-27T10:13:04Z

जानकीपुरम और मोहनलालगंज में बेटों ने पिता का कत्ल किया

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW : पिता और बेटे का पवित्र रिश्ता एक बार फिर राजधानी में तार-तार हो गया. एक ही दिन में एक नहीं दो घटनाओं ने सबको सोचने पर मजबूर कर दिया कि क्या समाज में पिता-पुत्र के रिश्ते भी कमजोर होते जा रहे हैं. जानकीपुरम सेक्टर तीन में एक पिता को पुत्र ने सोते समय चाकुओं से गोदकर मौत के घाट उतार दिया वहीं मोहनलालगंज में नशे में चूर बेटे ने पिता की लाठी-डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी.

नाबालिग ने की हत्या
हसनगंज के सीतापुर रोड खदरा निवासी ताज मोहम्मद (50) जानकीपुरम के सेक्टर तीन चंद्रिका टॉवर के पास झोपड़ी डाल कर अपनी दूसरी पत्नी सत्तो और बच्चों के साथ रहते थे. रिक्शा चलाकर परिवार पालने वाला ताज मोहम्मद मंगलवार रात करीब दो बजे तख्त पर सो रहा था. तभी पहली पत्‌नी के 17 वर्षीय बेटे ने उस पर चाकुओं से हमला बोल दिया. ताज मोहम्मद की चीखें सुनकर जब परिजन जागे तो आरोपी मौके से भाग निकला.

पुलिस को दी सूचना
परिजनों ने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी तो मौके पर पहुंची पुलिस ताज मोहम्मद को लेकर ट्रॉमा सेंटर आई. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इस मामले में मृतक की पत्‌नी ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है. पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है.

लगा सपना देख रहे हैं..
ताज मोहम्मद की बेटी नूरजहां (8) ने पुलिस को बताया कि जिस समय सौतेला भाई पिता पर हमला कर रहा था. उस दौरान वह भी पास ही सोई हुई थी. पिता के चीखने पर उसे लगा कि पिता कोई डरावना सपना देख रहे हैं. वह जाग तो गई लेकिन उसने आंखें नहीं खोली. पिता जब लगातार चीखते रहे तो उसने आंखें खोली तो देखा भाई उन पर चाकू से वार करने के साथ उनकी गर्दन भी दबा रहा है. पिता को उससे बचाने के लिए वह जोर-जोर से शोर मचाने लगी.

अफेयर की भी चर्चा
पुलिस को पता चला है कि ताज मोहम्मद की पहली पत्‌नी सायरा की 16 साल पहले मौत हुई थी. सायरा के छह बच्चों में आरोपी सबसे छोटा है. जबकि सत्तो सायरा के पहले पति की बेटी थी. सायरा की मौत के बाद ताज ने 2008 में उससे शादी की थी. सत्तो और ताज के पांच बच्चे हैं. स्थानीय लोगों में चर्चा है कि आरोपी किशोर और सत्तो के बीच अवैध संबंध हैं. ताज ने कुछ दिन पहले दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा था. विवाद बढ़ने पर यह मामला थाने तक पहुंचा था, जहां सत्तो ने आरोप को गलत बताया था.

नशे में पिता को उतारा मौत के घाट
मोहनलालगंज के कुराना गांव में किसान बाबूलाल (65) की पत्नी की कुछ साल पहले मौत हो चुकी है. घर में इकलौता बेटा रामकिशन उर्फ कालिया, उसकी पत्नी और पांच बच्चे हैं. बताया गया कि मंगलवार शाम करीब पांच बजे कालिया शराब पीकर आया तो उसका अपने बेटे से विवाद हो गया. जिस पर कालिया ने लाठी लेकर उसे पीटना शुरू कर दिया.

पोते को बचाने में दादा की गई जान
पोते को पीटता देख बाबूलाल ने उसे बचाने की कोशिश की तो कालिया ने बेटे को छोड़ उन्हें पीटना शुरू कर दिया. जिससे बाबूलाल को गंभीर चोटें आई. पोता रामकरन दादा बाबूलाल को लेकर सीएचसी पहुंचा, जहां से उसे ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया. ट्रॉमा में इलाज के बाद परिजन बाबूलाल को डिस्चार्ज कराकर रात 10 बजे घर ले आए. मंगलवार देर रात अचानक बाबूलाल की तबियत बिगड़ी और उनकी मौत हो गई.

बाक्स

पिता के खिलाफ लिखाई रिपोर्ट
परिजनों ने बुधवार सुबह पुलिस को इसकी सूचना दी तो मौके पर पहुंची मोहनलालगंज पुलिस ने जांच के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. इस मामले में रामकरन की तहरीर पर कालिया के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने कालिया को गिरफ्तार कर लिया है.

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.