इस साल नहीं होगा एशिया कप, BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने लगाई मुहर

Updated Date: Thu, 09 Jul 2020 09:54 AM (IST)

इस साल एशिया कप का आयोजन नहीं होगा। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बुधवार को इस बात पर मुहर लगा दी। साथ ही पाक क्रिकेट बोर्ड 2022 में एशिया कप की मेजबानी के लिए तैयार हो गया।


नई दिल्ली (पीटीआई)। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बुधवार को COVID-19 महामारी के कारण सितंबर में होने वाले एशिया कप टी 20 को रद करने की घोषणा की। पाकिस्तान के पास मूल रूप से इस इवेंट के होस्टिंग अधिकार थे, लेकिन खतरनाक COVID-19 स्थिति को देखते हुए, पीसीबी बोर्ड ने श्रीलंका के साथ इसे स्वैप करने का फैसला किया था। मगर अब इस साल एशिया कप को कैंसिल किया जा रहा है।गांगुली ने एक 'स्पोर्ट्स तक' के साथ इंस्टाग्राम लाइव में कहा, 'एशिया कप रद हो चुका है, जो इस साल सितंबर में होने वाला था।'पाक क्रिकेट बोर्ड ने की पुष्टि
पाकिस्तान क्रिकेट बार्ड ने पुष्टि की कि वे 2022 में इस कार्यक्रम की मेजबानी करने के लिए सहमत हो गए हैं और श्रीलंका को अब इस वर्ष के संस्करण को रद करने के बाद अगले वर्ष इसकी मेजबानी करने की उम्मीद है। पीसीबी प्रमुख एहसान मणि ने कहा कि बिगड़ी महामारी के कारण यह निर्णय लिया गया था। मणि ने पीटीआई से कहा, 'एशियाई क्रिकेट परिषद अगले साल इसका आयोजन कर रही है। इस साल इसकी मेजबानी करना बहुत खतरनाक है। हमने इस साल श्रीलंका के साथ इस कार्यक्रम की अदला-बदली की थी क्योंकि यह वायरस से सबसे कम प्रभावित (दक्षिण एशिया में) में से एक है।'


सुरक्षा के चलते हुआ रदमणि ने कहा कि स्थगन के पीछे कोई राजनीति नहीं थी और यह फैसला पूरी तरह से सुरक्षा के आधार पर लिया गया था। उन्होंने कहा, 'हम मूल रूप से इसकी मेजबानी करने जा रहे थे, लेकिन जब मैंने संयुक्त अरब अमीरात और पाकिस्तान और अन्य दक्षिण एशिया के देशों में कोविड-19 ​​की स्थिति को देखा, तो श्रीलंका में स्थिति बेहतर दिख रही थी।' मणि ने कहा, "इसलिए श्रीलंका क्रिकेट और पीसीबी ने इस पर चर्चा की। हमने स्वैप प्रस्ताव को एसीसी में डाल दिया और बोर्ड ने इसे मंजूरी दे दी। कोई राजनीति नहीं थी, यह सिर्फ क्रिकेट को बचाने के लिए था और कुछ नहीं।" COVID-19 महामारी के कारण सिर्फ एशिया कप नहीं ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी-20 वर्ल्डकप भी रद हो सकता है। एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) ने महाद्वीपीय आयोजन के लिए आगे की राह तय करने के लिए पिछले महीने बैठक की लेकिन कोई निर्णय नहीं लिया गया।आईपीएल पर सस्पेंस बरकरार

भारत में अब तक 7.5 लाख से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इसी शो में गांगुली से पूछा गया कि भारतीय टीम अगले मैच में कब दिखाई देगी। विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम ने आखिरी बार मार्च में खेला था। गांगुली ने कहा, 'यह कहना कठिन है क्योंकि वायरस की स्थिति में सुधार होने पर कोई नहीं जानता है। हमारी तैयारियां चल रही हैं लेकिन हम केवल जमीन पर ही लागू कर सकते हैं। स्टेडियम खुले हैं लेकिन खिलाड़ी वहां प्रशिक्षण लेने नहीं जा रहे हैं क्योंकि संक्रमित होने की संभावना अधिक है।' गांगुली ने कहा कि अगर ऑस्ट्रेलिया में टी 20 वर्ल्ड कप रद हो जाता है, तो बीसीसीआई आईपीएल के आयोजन के लिए अपनी सारी ऊर्जा लगा देगा। अगर लीग नहीं हुई तो बीसीसीआई को लगभग 4000 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। उन्होंने कहा, "यह भारत के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण टूर्नामेंट है। हमारा लक्ष्य इसे भारत में चार-पांच स्थानों पर होस्ट करना है। यदि ऐसा नहीं है, तो यह विदेशों में होना एक विकल्प है।'

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.