एसटीएफ ने सवा लाख के इनामी को एनकाउंटर में किया ढेर

2019-06-26T11:08:33Z

सोमवार देर रात एसटीएफ मेरठ यूनिट ने एनकाउंटर में सवा लाख के इनामी बदमाश आदेश बालियान को मार गिराया जबकि उसका साथी फरार हो गया।

- दो पिस्टल और एक बाइक बरामद, एसटीएफ बदमाश फरार
- मृतक बदमाश आदेश पर हत्या, डकैती, लूट, रंगदारी समेत 36 मुकदमे हैं दर्ज

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : सोमवार देर रात एसटीएफ मेरठ यूनिट ने एनकाउंटर में सवा लाख के इनामी बदमाश आदेश बालियान को मार गिराया जबकि, उसका साथी फरार हो गया। मौके से एक बाइक, दो पिस्टल और कारतूस बरामद हुए हैं। आदेश पर मुजफ्फरनगर, मेरठ, बागपत जिले में हत्या, लूट, डकैती, रंगदारी समेत संगीन धाराओं के 36 मुकदमे दर्ज हैं।
चेकिंग के दौरान मुठभेड़
एसटीएफ मेरठ की एक टीम बागपत जिले में हुई स्कार्पियो लूट व हत्या के मामले में वांछित चल रहे मुजफ्फरनगर के गांव भौराखुर्द निवासी आदेश बालियान की तलाश में थी। देर रात एक सूचना के आधार पर एसटीएफ टीम ने चेकिंग शुरू की तो इसी दौरान एक बाइक पर दो संदिग्ध युवक आते दिखे। चेकिंग देख वे सम्भलहेड़ा-कुतुबपुर नहर पटरी की ओर भाग निकले। पुलिस ने पीछा किया तो बदमाशों ने फायङ्क्षरग शुरू कर दी। पुलिस व एसटीएफ की जवाबी फायरिंग में सीने में गोली लगने से कुख्यात आदेश बालियान की मौत हो गई। एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह के मुताबिक बागपत से एक लाख व मुजफ्फरनगर से 25 हजार का इनाम घोषित था। मंगलवार शाम एडीजी प्रशांत कुमार मुजफ्फरनगर पहुंचे और एनकाउंटर से संबंधित जानकारी मीडिया को दी। उन्होंने कहा कि आदेश का भाई हरीश भी दो लाख का इनामी है।
'जुलाई अभियान' से महिला अपराध पर लगेगी लगाम
ट्रेन से कूद कर भागा था कुख्यात
23 अप्रैल 2016 को दिल्ली रोहिणी कोर्ट की पेशी के बाद आदेश बालियान बरेली जाते समय इंटरसिटी ट्रेन से कूदकर फरार हो गया था। उसे 24 घंटे के अंदर ही पकड़ लिया था।  बागपत जेल में जब मुन्ना बजरंगी की हत्या हुई थी, उस वक्त आदेश बागपत जेल में ही बंद था। बाद में उसे दूसरी जेल में शिफ्ट कर दिया गया था।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.