5 दिन से पानी के लिए त्राहित्राहि कर रहे स्टूडेंट्स

2019-11-14T05:46:00Z

-9 नवम्बर को आरयू के चारों हॉस्टल मे पानी सप्लाई की मोटर फुंकने से नहीं मिल रहा पानी

- गुस्साए हॉस्टल स्टूडेंट्स ने वेडनसडे दोपहर आरयू रजिस्ट्रार को घेरा

250 स्टूडेंट्स रहते हैं मेन ब्वॉयज हॉस्टल में

300 स्टूडेंट्स हैं न्यू ब्वॉयज हॉस्टल में

250 स्टूडेंट्स पीजी हॉस्टल के भी परेशान

250 स्टूडेंट्स राजकीय हॉस्टल में रहते हैं

2-मोटर से होती है हॉस्टल में पानी की सप्लाई

9-नवम्बर को फूंक गई थीं दोनों मोटर

बरेली:

आरयू कैंपस के चार हॉस्टल में रहने वाले एक हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स पिछले पांच दिन से बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं। कारण हॉस्टल में पानी की सप्लाई देने वाली दोनों मोटर 9 नवम्बर को ही फूंक गई। इस समस्या के बारे में स्टूडेंट्स ने जिम्मेदारों से शिकायत भी की, लेकिन आरयू के वार्डन और जिम्मेदारों ने कोई ध्यान नहीं दिया। बार-बार शिकायत के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ तो वेडनसडे को स्टूडेंट्स का गुस्सा फूट पड़ा और गुस्साए स्टूडेंट्स ने वेडनसडे दोपहर आरयू रजिस्ट्रार का घेराव किया। इसके बाद स्टूडेंट्स की समस्या का देखते हुए पानी के लिए वैकल्पिक व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। इसके बाद देर रात तक मोटर लगाने की कवायद चलती रही और स्टूडेंट्स पानी को तरसते रहे।

धरने पर बैठ गए स्टूडेंट्स

आरयू कैंपस में स्टडी करने वाले स्टूडेंट्स के लिए कैंपस में ही हॉस्टल बने हुए हैं। सभी हॉस्टल की अलग-अलग कैपिसिटी है, किसी हॉस्टल में 300 तो किसी में 250 स्टूडेंट्स हैं। इन सभी हॉस्टल में पानी की सप्लाई कैंपस में बने ओवरहेड टैंक से दी जाती है। लेकिन ओवरहेड टैंक से हॉस्टल के रूम तक पानी नहीं पहुंच पता था। इस समस्या को दूर करने के लिए आरयू प्रशासन ने दो मोटर कैंपस में लगाई थी। यह दोनों मोटर एक-एक कर 9 नवम्बर को फूंक गई। इसके बाद से हॉस्टल की पानी समस्या गड़बड़ा गई। हॉस्टल में पानी नहीं पहुंच रहा है। इससे स्टूडेंट्स कई दिन से परेशान हैं।

30 मिनट किया हंगामा

हॉस्टल में रहने वाले 50 से अधिक स्टूडेंट्स वेडनसडे दोपहर प्रशासनिक भवन के सामने पहुंचे। जहां पर सभी अपनी समस्या को लेकर धरने पर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे। किसी तरह आरयू प्रशासन के अफसरों ने समझाया और रजिस्ट्रार सुनीता पाण्डेय से मिले और ज्ञापन देकर अपनी समस्या उन्हें बताई। स्टूडेंट्स की समस्या को देखते हुए उन्होंने भरोसा दिया कि अभी वैकल्पिक व्यवस्था को लेकर एक मोटर शाम तक लगा दी जाए। इसके बाद नई मोटर लगा दी जाएगी। रजिस्ट्रार के अश्वासन के बाद स्टूडेंट्स शांत हो गए।

स्टूडेंट्स हॉस्टल में पानी की समस्या को लेकर आए थे। वैकल्पिक व्यवस्था कराने को निर्देश दिए है। पानी की व्यवस्था ठीक करने के लिए निर्देश दिया है। जल्द ही पानी की समस्या दूर होगी और स्टूडेंट्स को कोई समस्या नहीं होगी।

डॉ। सुनीता पाण्डेय, रजिस्ट्रार आरयू

बोले स्टूडेंट्स

-नौ नवम्बर को कैंपस के हॉस्टल में पानी सप्लाई देने वाली मोटर खराब हो गई। इसके बाद से चारों हॉस्टल में पानी की समस्या हो रही थी। इसके लिए जिम्मेदारों से शिकायत भी की गई तो सिर्फ आश्वासन मिला लेकिन समाधान नहीं हुआ।

आशुतोष पाठक

-परेशान होकर हॉस्टल में रहने वाले सभी स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रार का घेराव किया। हॉस्टल में हो रही पानी की समस्या से अवगत कराया तब कहीं जाकर बताया गया कि शाम तक पानी की सप्लाई के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करा दी जाएगी।

अमित पटेल

-9 नवम्बर से हॉस्टल में दोनों मोटर खराब हैं और ओवरहेड टैंक की सप्लाई ठीक से ही नहीं आती है.अभी तक जिम्मेदार पानी की समस्या को दूर नहीं कर सके। इससे हम लोग अपने साथियों के रूम पर जाकर अपने काम निपटा रहे हैं।

दीपांशु गंगवार

-ओवरहेड टैंक से पानी की सप्लाई ठीक तरह से होती तो प्रॉब्लम ही नहीं होती। मोटर से पानी की सप्लाई हो रही थी, लेकिन मोटर खराब होने से 9 नवम्बर से नहीं मिल पा रही थी इसीलिए पानी के लिए सभी स्टूडेंट्स परेशान हो रहे थे।

शुभम मौर्या

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.