इंदौर के तालाब में मिली नरभक्षी मछलियां

2016-02-02T11:23:10Z

मध्‍य प्रदेश के इंदौर जिले के तालाब में नरभक्षी मछलियां मिलने से क्षेत्र में दहशत फैल गई है। ये मछलियां इंसान के तालाब में घुसते ही उनके खून की गंध सूंघ कर हमला कर देती हैं। हैरानी की बात यह है कि इंदौर के इस तालाब में थाईलैंड में पाई जाने वाली हिंसक मांगूर मछली समेत फंकस कतला और कॉमनकार मछलियां भी मिल चुकी हैं।

तालाब की सफाई के दौरान मिली मछलियां
इंदौर के बिजासन माता मंदिर के पास बने तालाब में दो पिरान्हा मछलियां मिली हैं। मछलियों की पिरान्हा प्रजाति नरभ्ाक्षी होती हैं। बिजासन माता मंदिर के जीर्णोद्धार और तालाब की साफ-सफाई का काम चल रहा था। इसी दौरान सफाईकर्मियों को यहां पिरान्हा मछलियां मिलीं। ये मछलियां इतनी हिंसक प्रवत्ति की होती हैं कि इनके काटने के बाद व्यक्ति की मौत तक हो जाती है।

इंसान की हड्डियां तक चबा जाती हैं पिरान्हा
विशेषज्ञों ने बताया कि इन खतरनाक मछलियों का वजन करीब 10 से 15 किलो होता है। इन मछलियों के दांत इंसानो की तरह होते हैं। इनकी एक बड़ी प्रजाति होती है जो मनुष्य को मार कर उन्हे खा जाती है। 17 इंच की यह मछलियां अक्सर ठहरे हुए पानी में पाई जाती हैं। अपने नुकीले दांतों से उसके मांस और हड्डी तक चबा जाती हैं. इनकी सामान्य मछलियों से ज्यादा खुराक होती है।
जब शवों को चबा गई थीं
वर्ष 1976 में यात्रियों से भरी बस अमेरिका के अमेजॉन नदी में गिर गई थी। उस हादसे में कई लोगों की जान चली गई थी। बचाव टीम ने मौके पर पहुंच कर जब शवों को बाहर निकाला था तो उनमें से कुछ को पिरान्हा मछलियों ने इतनी बुरी तरह खा लिया था कि उनकी पहचान उनके कपड़ों से हुई।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.