पॉश एरिया में स्वाइन फ्लू की एंट्री 3 बच्चों समेते 15 की रिपोर्ट पॉजिटिव

2019-02-17T06:00:51Z

- शहरी क्षेत्रों के मरीज भी आ रहे चपेट में, गंदगी की वजह से फैल रहा संक्रमण

-

बरेली : शहर में स्वाइन फ्लू ने तेजी से पांव पसारने शुरू कर दिया है। इसके बाद भी प्रशासन पब्लिक को जागरूक नहीं कर रही है और इसकी रोकथाम के लिए भी कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। पिछले माह स्वास्थ्य विभाग ने 19 संदिग्ध मरीजों के सैंपल लखनऊ भेजे थे। रिपोर्ट में 15 सैंपल पॉजीटिव निकले हैं, जिनमें तीन बच्चों के है। सैंपल पॉजीटिव मिलने की खबर से जिला अस्पताल में हड़कंप मचा हुआ है।

शहरी क्षेत्रों में तेजी से फैल रहा

स्वाइन फ्लू के पॉजीटिव सैंपल में सबसे अधिक मरीज शहरी क्षेत्र के हैं। विशेषज्ञों की माने तो स्वाइन फ्लू के फैलने का मुख्य कारण गंदगी और अनियमित दिनचर्या है। हालांकि जिला अस्पताल में स्वाइन फ्लू के मरीजों के लिए वार्ड बना हुआ है। यहां इलाज के लिए पहुंचने वाले मरीजों में स्वाइन फ्लू के लक्षण प्रतीत होने पर उसका सैंपल लखनऊ जांच के लिए भेजा जाता है। कोई भी संक्रामक रोग फैलने की सूचना मिलते ही ग्रामीण क्षेत्र की तस्वीर जहन में आ जाती है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं है जितने भी संदिग्ध मरीज अब तक जिला अस्पताल में पहुंचे है, उनमें से ज्यादातर शहरी क्षेत्र के रहने वाले हैं, बाकि गैर जनपद से हैं।

पॉश इलाके में भी दस्तक

शहर के पॉश इलाके में शुमार रामपुर गार्डन में रहने वाले दो लोगों में भी स्वाइन फ्लू के लक्षण पाए गए। जिला अस्पताल पहुंचे इन लोगों के सैंपल जांच में पॉजिटिव पाए गए।

यहां से आएं संदिग्ध मरीज

। रामुपर गार्डन

2.पंचशील नगर

3. बांस मंडी

4. सिविल लाइंस

लक्षण ।

1. थकावट महसूस होना।

2. भूख न लगना।

3. बुखार बना रहना।

4. नाक का निरंतर बहना।

5. गले में खराश

6. खांसी-जुकाम का बना रहना।

बचाव ।

स्वाइन फ्लू संबंधी लक्षण होने पर खांसते व छींकते समय नाक व मुंह को ढककर रखना चाहिए। वहीं नियमित रूप से हाथों को साबुन से धोना चाहिए। फ्लू के लक्षण का पता लगने पर अन्य व्यक्तियों से कम से कम एक मीटर की दूरी से बात करना चाहिए। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचना चाहिए।

बांस मंडी बन सकता है डेरा

शहर के लाल मस्जिद के पास स्थित मोहल्ला बांस मंडी पूरी तरह से गंदगी की आगोश में है। यहां का मेन नाला चोक होने की वजह से सड़कों पर गंदी पानी भरा रहता है। अब स्वाइन फ्लू शहर में तेजी से पांव पसार रहा है। बांस मंडी से भी चार स्वाइन फ्लू के चार संदिग्ध जिला अस्पताल पहुंच चुके हैं। अगर यहां के हालात ऐसे ही रहे तो यह स्वाइन फ्लू का डेरा बन सकता है।

दूर दराज क्षेत्र से भी स्वाइन फ्लू के संदिग्ध मरीज जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं। उनका जांच सैंपल लखनऊ भेजा रहा है। अधिकांश मरीज शहरी क्षेत्र से हैं।

-डॉ। विनीत कुमार शुक्ल, सीएमओ।

क्या बोले लोग

मेन नाले में कचरा भरा होने के कारण छोटी-छोटी नालियां चोक हो गई है। जिस कारण गंदा पानी सड़कों पर भरा रहता है।

शिराज।

पिछले साल भी हमारे इलाके के कई लोगों में स्वाईन फ्लू पॉजिटिव पाया गया था। इसकी मुख्य वजह मोहल्ले में फैली गंदगी है।

अनवर।

हाल ही में गंदगी को लेकर मोहल्ले की महिलाओं ने जाम भी लगाया था। निगम कर्मचारियों की ओर से आश्वासन तो मिला लेकिन अभी तक पूर्ण रुप से सफाई नहीं हो सकी है।

शेरु।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.