बीएसए के निरीक्षण में गायब मिले शिक्षक

2018-11-29T06:00:54Z

- स्कूलों में पूरे नही मिले बच्चे, बीएसए ने लगाई फटकार

BAREILLY:

बीएसए ने वेडनसडे को जिले के कुछ स्कूलों में औचक निरीक्षण किया। इस दौराना सबसे खराब स्थित देवरनियां के स्कूलों की मिली। जिस पर बीएसए भड़क गई। दरअसल बीएसए तनुजा त्रिपाठी सबसे पहले सुबह 9:05 बजे देवरनियां पहुंची। देवरनियां में एक ही कैंपस में तीन स्कूल चलते हैं, लेकिन स्कूल में पूरा स्टाफ नही था। जिसके बाद बीएसए 9:25 बजे तक कैंपस में रहीं लेकिन 20 मिनट बाद भी पूरा स्टाफ नहीं पहुंच पाया। जिस पर बीएसए ने जमकर फटकार लगाई।

बच्चे भी नहीं मिले पूरे

प्राइमरी स्कूल देवरनिया फ‌र्स्ट में पांच टीचर और दो शिक्षामित्र तैनात हैं। जिसमें से केवल दो टीचर ही स्कूल में मौजूद मिले। हेड मास्टर मो हसन, सहायक अध्यापिका ज्योति राना, बेबी तबस्सुम व शिक्षामित्र विजेंद्र पाल और परवीन गायब मिले। स्कूल में 233 बच्चे रजिस्टर है। जिसमे से केवल 15 बच्चे ही स्कूल में मौजूद थे। जिसके बाद बीएसए देवरनिया सेकंड में पहुंची वहां पर केवल एक ही टीचर मौजूद मिला। जबकि स्कूल में पांच टीचर और दो शिक्षामित्र तैनात है। स्कूल में कुल 229 बच्चे रजिस्टर है जिसमें से एक भी छात्र स्कूल मौजूद नही मिला।

सिर्फ पांच बच्चे मिले

बीएसए बाद में पूर्व माध्यमिक स्कूल देवरनिया पहुंची जिसमें पांच टीचर और तीन अनुदेशक हैं। सहायक टीचर पूनम सक्सेना और सुनीता अमर सिंह के साथ अनुदेशक प्रीति मिश्रा और ममता गायब मिले। 164 में से सिर्फ पांच छात्र मौजूद थे। प्राइमरी स्कूल मोहनपुर दमखोदा में दो शिक्षामित्र रोमाना बी और सुमन गुप्ता गायब थी। स्कूल में व्यवस्थाएं अच्छा था। 158 में से 86 छात्र उपस्थित थे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.