तोड़फोड़ के साथ शुरू हुई 'सीलिंग'

2017-05-23T07:40:19Z

झलवा, मुट्ठीगंज व जानसेनगंज में दस मकान हुए सील

24 तक चलेगा ऑपरेशन क्लीन सिविल लाइंस

ALLAHABAD: अगले कुछ दिनों तक शहर में अवैध निर्माण और इनक्रोचमेंट करने वालों की खैर नहीं है। क्योंकि हाईकोर्ट की फटकार के बाद शुरू हुई एडीए, एडमिनिस्ट्रेशन और नगर निगम की कार्रवाई रुकने वाली नहीं है। अभी तक जहां तोड़फोड़ का अभियान चल रहा था। वहीं अब अवैध तरीके से बन रहे मकानों की सीलिंग की कार्रवाई तेज हो गई है। सोमवार को जोनल अधिकारी पुष्कर श्रीवास्तव ने देवघाट झलवा, मुट्ठीगंज व जानसेनगंज के दस मकानों को सील किया।

24 को हाईकोर्ट में देना है जवाब

इनक्रोचमेंट और अवैध निर्माण तो पूरे शहर में है, लेकिन फिलहाल एडीए और नगर निगम का पूरा फोकस सिविल लाइंस पर है, क्योंकि हाईकोर्ट के आदेश पर वीसी एडीए और डीएम इलाहाबाद को 24 मई को रिपोर्ट देनी है। इसमें बताना है कि उन्होंने सिविल लाइंस को अवैध निर्माण और इनक्रोचमेंट से मुक्त करने के लिए क्या किया। इसीलिए 24 मई तक सिविल लाइंस से जुडे़ हर एरिया व रोड पर अभियान चलता रहेगा।

तोड़े गए रैम्प, हटाई गई दुकानें

सोमवार को एडीए और नगर निगम का संयुक्त अतिक्रमण हटाओ अभियान ओएसडी आलोक पांडेय व अतिक्रमण निरीक्षक पीयूष मोहिले के नेतृत्व में नवाब युसूफ रोड क्रासिंग से शुरू हुआ। ये कूपर रोड, बिग बाजार होते हुए ताशकंद मार्ग के क्रासिंग तक चला। इस दौरान नाला-नाली व सड़क पटरी के दोनों ओर से अतिक्रमण हटवाया गया। नाली पर बने पांच पक्के रैम्प तोड़े गए। वहीं गोविंदपुर श्रीराम पार्क के अंदर बंधी गाय-भैंस को पार्क से बाहर निकालते हुए सात खूंटे उखाड़े गए। अतिक्रमण करने वालों से 47 हजार 500 रुपया शमन शुल्क वसूला गया।

अवैध तरीके से हो रहा था निर्माण

एडीए के जोनल अधिकारी पुष्कर श्रीवास्तव ने अवैध तरीके से बन रहे मकानों पर कार्रवाई की। मुट्ठीगंज में लक्ष्मी नारायण रोड पर बिहारी लाल गुप्ता, मालवीय नगर में नमो नारायण शुक्ला, जानसेनगंज में देवेंद्र नाथ मिश्रा, खेलगांव के आगे महेश केसरवानी, झलवा रोड कौशाम्बी में शिव प्रसाद, पीपल गांव में जुल्फिकार अहमद, मयूर विहार कॉलोनी में कृष्ण कुमार सिंह, मयूर विहार कॉलोनी में केके सिंह और मयूर विहार में ही लालचंद पटेल द्वारा कराए जा रहे अवैध निर्माण को सील कर दिया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.