संन्यास लेने जा रहे इस क्रिकेटर को पत्नी ने रोका कही ऐसी बात कि जड़ दिया शतक

2018-10-09T13:23:22Z

पाकिस्तानी बल्लेबाज मोहम्मद हफीज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट शतक लगाकर साबित कर दिया कि अभी भी उनमें क्रिकेट बाकी है। 38 साल के हफीज क्रिकेट छोड़ने का मन बना चुके थे मगर पत्नी के कहने पर खुद को रोका और फिर शतक लगाया।

कानपुर। पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच दुबई में खेले जा रहे पहले टेस्ट में पाक बल्लेबाज मोहम्मद हफीज चर्चा का विषय बन गए हैं। 37 साल के हफीज दो साल बाद पाकिस्तान टेस्ट टीम में लौटे हैं और वापस आते ही उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में 126 रन बनाए। यह पारी खेलकर हफीज ने साबित कर दिया कि उनके अंदर अभी भी काफी क्रिकेट बाकी है। एक वक्त ऐसा था कि जब हफीज ने क्रिकेट छोड़ने का मन बना लिया था। पाकिस्तान की एक न्यूज वेबसाइट डॉन के मुताबिक, दाएं हाथ के ओपनर बल्लेबाज हफीज कुछ समय पहले संन्यास की घोषणा करने वाले थे मगर उनकी पत्नी नाजिया ने उन्हें रोक लिया। यही नहीं पूर्व पाक तेज गेंदबाज शोएब अख्तर की सलाह पर भी हफीज ने संन्यास नहीं लिया।
पत्नी ने रोक लिया था

हफीज बताते हैं, 'पिछले महीने एशिया कप में जब पाकिस्तान टीम में सलेक्शन नहीं हुआ तो मैं मानसिक रूप से काफी परेशान हो गया था। मैं संन्यास लेने के बारे में सोच ही रहा था कि मेरी पत्नी ने रोक लिया। इसके ठीक बाद शोएब ने मुझे फोन करके संन्यास न लेने को कहा।' खैर हफीज का यह फैसला सही साबित हुआ। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने बतौर ओपनर शानदार शतक लगाया। वह आगे कहते हैं, 'इस स्थिति पर आकर ऐसा कमबैक करना वाकई सुखद है। मैं जब टीम में वापस आया तो साथी खिलाड़ियों ने तहे-दिल से स्वागत किया, इससे मेरा कांफिडेंस और बढ़ गया।'
ऐसा है हफीज का क्रिकेट करियर
मोहम्मद हफीज को दो साल पहले इंग्लैंड टूर पर खराब प्रदर्शन के चलते टीम से बाहर कर दिया था। इसके बाद हफीज ने काफी कोशिश की मगर पाक टीम में उनकी वापसी नहीं हो पाई। क्रिकेट करियर की बात करें तो, हफीज ने साल 2003 में अपना पहला इंटरनेशनल मैच खेला था। उनके नाम 200 वनडे मैच दर्ज हैं जिसमें 32.83 की औसत से 6107 रन बनाए। इसमें 11 शतक और 34 अर्धशतक भी शामिल हैं। इसके अलावा टेस्ट क्रिकेट की बात करें तो हफीज ने 50 टेस्ट खेलकर 3452 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से 9 शतक और 12 अर्धशतक निकले।
3 साल में 51 शतक ठोंक चुका यह भारतीय खिलाड़ी बेचता है गोलगप्पे, कब आएगा टीम इंडिया में?
टीम इंडिया में कौन रहेगा या नहीं, इसका फैसला सलेक्शन कमेटी नहीं ये शख्स करता है



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.