प्रयागराज कुंभ 2019 विश्व का आठवां आश्चर्य है कुंभ मेला

2019-02-18T09:44:35Z

विश्व में सात आश्चर्य है किंतु आज मैं विश्व का आठवां आश्चर्य कुंभ मेले के रूप में प्रयागराज में देख रहा हूं

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: विश्व में सात आश्चर्य है, किंतु आज मैं विश्व का आठवां आश्चर्य कुंभ मेले के रूप में प्रयागराज में देख रहा हूं. अरैल क्षेत्र सेक्टर18 में परमार्थ निकेतन आश्रम में चल रहे कीवा फेस्टिवल को देखने के बाद उप राष्ट्रपति वैंकैया नायडू ने यह बात कही. उन्होंने फेस्टिवल में विश्व के विभिन्न 42 देशों से आए जनजातियों और उनके प्रमुखों से मुलाकात की. उप राष्ट्रपति के साथ प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और परमार्थ निकेतन के प्रमुख चिदानंद सरस्वती आदि मौजूद थे. उप राष्ट्रपति ने कीवा फेस्टिवल को अदभुत बताते हुए परमार्थ निकेतन की शादी को न और पढ़ाई को हां कैंपेन को बेहतर बताया. समारोह में कैबिनेट मंत्री नंद कुमार नंदी, कथाकार मुरलीधर जी महाराज के अलावा मैक्सिको, चिली, कोलंबिया, ऑस्ट्रिया, पेरू, हॉलैंड, अर्जेन्टीना, अफगानिस्तान, आदि देशों के लोग उपस्थित थे.

वैंकैया नायडू ने अक्षयवट और बड़े हनुमान का किया दर्शन
संगम नोज पर गंगा पूजन के बाद श्री नायडू का काफिला सीधे अक्षयवट के पास पहुंचा. जहां उन्होंने परिक्रमा कर अक्षयवट का दर्शन किया.कमिश्नर डॉ. आशीष कुमार गोयल ने श्री नायडू को अक्षयवट के ऐतिहासिक महत्व की विस्तार से जानकारी दी. गवर्नर राम नाईक ने श्री नायडू को अक्षयवट का पत्ता भेंट किया. इसके बाद श्री नायडू ने सरस्वती कूप और बड़े हनुमान का दर्शन किया. अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरी व योग गुरु आनंद गिरी की अगुवाई में उन्होंने हनुमानजी का पूजन किया और आरती उतारी. इसके पहले बमरौली एयरपोर्ट पर सीएम योगी आदित्यनाथ, गवर्नर राम नाईक व कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी और अभिलाषा गुप्ता ने उपराष्ट्रपति का स्वागत किया. संगम नोज पर श्री नायडू ने गंगा मइया की आरती उतारी और दूध से अभिषेक किया.

 

var width = '100%';var height = '360px';var div_id = 'playid34'; playvideo(url,width,height,type,div_id);

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.